कृमिरोग

कृमिरोग मनुष्य अथवा अन्य जानवरों के उदर में अथवा पेट में केंचुए जिसे कृमि भी कहते है से उत्पन्न रोग है। सामान्य हिन्दीभाषी लोग पेट में कीड़ी भी बोलते हैं। यह रोग मुख्यतः गंदगी से फैलता है गन्दी मृदा के संपर्क मे आने से भी यह रोग फैलता है।

आय र व द म परज व य क क म कहत ह आय र व द म इनक त न प रक र कह गय ह - कफज प र षज रक तज क म र ग
र मब ण म न गय ह इसक अल व कफ, व तन शक ह न क क रण बव स र, व तरक त, क म र ग न क स ख न और क न बहन पर इसक स वरस क प रय ग ह त ह म ख य र प स इसक
शल यक र य स ह न व ल उपद रव क स थ ह ज वर, प च स, ह चक ख स क म र ग प ण ड प ल य कमल आद क वर णन ह उत तरत त र क एक भ ग श ल क यत त र
करन व ल ह नय ग ड अग न क रक ह इसक स वन स कफ श व स, ख स और क म र ग प द ह त ह न त य अदरक क रस म ग ड म ल कर ख न स कफ नष ट ह त ह