Топ-100 ⓘ स्वर्ग गुफा वियतनाम में एक गुफा है, DongHoi के 60 किमी उत्तर
पिछला

ⓘ स्वर्ग गुफा वियतनाम में एक गुफा है, DongHoi के 60 किमी उत्तर पश्चिम और हनोई के 450 किमी दक्षिण. एक स्थानीय आदमी ने 2005 में इस गुफा की खोज की। ब्रिटिश वैज्ञानिक ..



स्वर्ग गुफा
                                     

ⓘ स्वर्ग गुफा

स्वर्ग गुफा वियतनाम में एक गुफा है, DongHoi के 60 किमी उत्तर पश्चिम और हनोई के 450 किमी दक्षिण. एक स्थानीय आदमी ने 2005 में इस गुफा की खोज की। ब्रिटिश वैज्ञानिकों को यह 2005 से 2010 तक का पता लगाया. वे 2010 में घोषणा की कि गुफा 35 किमी है। अपनी सुंदरता के कारण, वे इसे स्वर्ग कहा जाता है। यह एशिया में सबसे लंबे समय तक गुफा है।

                                     
  • क प र ह त वश ष ठ क न व स स थल थ वश ष ठ ग फ म स ध ओ क ध य नमग न म द र म द ख ज सकत ह ग फ क भ तर एक श वल ग भ स थ प त ह यह जगह पर यटन
  • बड आईस स क ग ज न भ ह ग र रनरग र ट - फ र ग र रनरग र ट ज स अल प इन क स वर ग कहत ह क ख बस रत जर र न ह र ए सर द य म बर फ स ढक रहन व ल यह
  • ह ल ह म पर यटक क ल ए ख ल द य गय ह बर ड व चर स क ल ए भ यह जगह स वर ग स कम नह ह नव बर स म र च क द र न हज र क स ख य म प रव स पक ष
  • एव कल भवन म श ल प - च त र - स थ पत य कल ओ क स थ य न ध य ह यह क ग फ म एक पदच ह अ क त ह ज स ल ग भ ग क पदच ह म नत ह पर वत क मध य म
  • क छ कदम क द र पर श नद र ग फ ए ह कह ज त ह क मद र क श ह व श जब प जर ज त थ जब इन ग फ ओ म आर म करत थ ग फ क भ तर पत थर क क टकर स ढ य
  • सह यत स एक ग प त म र ग स सभ व नर स न क उस ग फ म पह च गए जह पर इ द रज त यज ञ कर रह थ उस ग फ म घ स कर व नर स न क न उसक यज ञ भ ग कर द य
  • जड ब ट स ज वन स उपच र करन पर वह प नर ज व त ह गए तब द वत ओ न स वर ग स फ ल क वर ष क ज प थ व पर ग र गए और फ ल क घ ट बन गय भगव न
  • इस म द र म व ष ण द व क ग फ क अन क त क प रयत न क य गय ह इस भव य म द र म ब ई ओर स प रव श ह त ह पव त र ग फ क प र क त क र प द न क च ष ट
  • स रग ज - स र गज - अर थ त द वत ओ एव ह थ य व ल धरत स वर गज - स वर ग ज - स वर ग क सम न भ - प रद श स रग ज - स र ग ज - आद व स य क ल कग त
  • ह यह क न रवत एक अलग व त वरण बन त ह प रक त प र म य क ल य यह स वर ग ह यह पर र म चक ख ल ज स ट र क न ग, म चर ट र ल पर व चरण, र पल ग आद
  • स थ न क स ब ध म यह भ कह ज त ह क यह वह स थल ह जह प थ व और स वर ग एक क र ह त ह त र थय त र इस य त र क द र न सबस पहल यम न त र यम न
                                     
  • क स थ त म प थ व पर आन पड तब उन ह न व च र क य क हम अपन स थ स वर ग क एक ख ड ट कत रड भ ल चल वह स वर गख ड उज जय न ह आग मह कव न
  • गय ह अष टचक र नवद व र द व न प रय ध य और इसक स पन नत क त लन स वर ग स क गई ह र म यण क अन स र अय ध य क स थ पन मन न क थ यह प र सरय
  • मह लक ष म उद य न बन य गय कह ज त ह क ब हर क छ ट म डप म एक प र च न ग फ ह ज ध य न स धन क उद द नश य स बन ई गई थ प रव श स थ न पर गण श, त लस
  • मन द र बद र न थ भगव न क म त क समर प त एक मन द र व द व य स ग फ य गण श ग फ जह व द और उपन षद क ल खन क र य ह आ थ तथ प र ण क कथ ओ
  • ह ल ह म पर यटक क ल ए ख ल द य गय ह बर ड व चर स क ल ए भ यह जगह स वर ग स कम नह ह नव बर स म र च क द र न हज र क स ख य म प रव स पक ष
  • ज म द र स क छ ह द र पर स थ त ह म द र क सम प ह म एक ग फ ह ज स न न द व ग फ क न म स ज न ज त ह पहल म द र तक पह चन क ल ए 1.25 क म
  • सम द ध इत ह स और स स क त क व र सत ह ल ग अक सर स गल ज ल क क स न क स वर ग क र प म स दर भ त करत ह स गल क ज ल ह ल ह म एक स जन ह ज स
  • ह स स नह बन प य व च र य ह क अगर आपन उत तरप र व नह द ख त स वर ग नह द ख ट ट क सल ट स सर व स ज क प र य एम.वर ग स न कह ज इस
  • खन ज  स फट क स बन य ज त ह पश च म ह म लय म अमरन थ न मक ग फ म प रत य क श त ऋत म ग फ क तल पर प न टपक न स बर फ क श वल ग स ज त ह त ह यह
  • प रक शन क सम पन क र प म म नत ह वर ष 610 म म हम मद क ग फ ह र म ज ब र ल द व र ग फ म प रकट क य गय थ रब رب परम श वर, सस ट नर, च र शर
  • मलय लम क वर ष ठ स ह त यक र ह अनर थ न म ष, जन मद न, म र ख क स वर ग म र द द क ह थ आद उनक स अध क प स तक प रक श त ह च क ह व
  • क न र बन ह सड क म र ग द व र यह आस न स पह च ज सकत ह यह एक ग फ म स थ त श वल ग पर एक चट ट न स प न क ब द टपकत रहत ह इस क रण
                                     
  • म ख यत - न त यकल स ज ड रह ह द व न द र इन द र क अच छ नर तक ह न - तथ स वर ग म अप सर ओ क अनवरत न त य क ध रण स हम भ रत य क प र च न क ल स न त य
  • प र पर क तर क स नह म र ज सकत भ ग न कलत समय ह ल स ग और ऐन एक ग फ म ग र ज त ह जह व फ र क स ट इन क द नव क ज व त प त ह वह उनस ग ज र श
  • क छ नह ह ल क न एक प रस द ध व श व स अन स र यह शब द न ऋष तथ प ल ग फ म लकर बन ह म न ज त ह क एक समय न प ल क र जध न क ठम ड न ऋष
  • स र य मन द र ह क छ और द र अनन तन ग ज ल म श व क समर प त अमरन थ क ग फ ह जह हज र त र थय त र ज त ह श र नगर स त स क ल म टर द र म स ल म
  • स स क त क धर हर क स ज ए ह ए ह गर बन थ ज ग फ ब ड म र ज ल क श व तहस ल म गर बन थ ज क प रस द ध ग फ ह ज एक आध य त म क क द र ह ल न नद क
  • ह ज 12 म टर 39 फ ट न च एक प र क त क ग फ तक ज त ह एडवर ड एच. थ म प सन न 1800 सद क अ त म इस ग फ क ख द ई क और क य क उन ह कई क क ल और
  • ल ए कई र त क ल ए ह र न म क पर वत ग फ म अल ल ह क य द म ब ठत ब द म 40 स ल क उम र म उन ह न ग फ म ज ब र ल अल क द ख जह उन ह न

यूजर्स ने सर्च भी किया:

सवर, सवरगफ, स्वर्ग गुफा, दक्षिणी वियतनाम. स्वर्ग गुफा,

...

शब्दकोश

अनुवाद

अगर आपको भी धरती पर देखना हैं स्वर्ग जैसा नज़ारा.

तो चलिए जानते है स्वर्ग की तरह खूबसूरत धरती के नीचे स्थित इन जगहों के बारे में। 1. वियतनाम, हैंग सोन डूंग गुफा. धरती के नीचे स्थित इस गुफा को दुनिया की सबसे बड़ी गुफा माना जाता है। 20 25 साख साल पुरानी इस गुफा में आप प्रकृति. भित्ति चित्रकला CCRT. स्वर्ग का मन्दिर. मोगाओ गुफा. कहा जाता है कि मोगा की पहली गुफा एक बौद्ध भिक्षु, लियुन ने बनवाया था उसके पास हजार बुद्ध की दृष्टि थी मोगाओ गुफाओं को मोगाओ ग्रूट्स, दुनहंग की गुफाओं या हजार बुद्धों की गुफाओं Thousand. यहां बसा है पृथ्वी का नागलोक, दर्शन के लिए दूर दूर. अधिकारियों का स्वर्ग कहे जाने वाले छुरा में हो रहा स्तरहीन निर्माण। पुलिस दबिश की छह साल और एक साल की बच्चियां बेचने की थी तैयारी PM नरेंद्र मोदी के 1 दिन ने बदल दी केदारनाथ रूद्र गुफा की तस्वीर राशिफल – कैसे बीतेगा. इस गुफा से शुरू होता है स्वर्ग का मार्ग वेबदुनिया. हम आपको बता रहे हैं कि चीन में स्वर्ग का दरवाजा मिल गया है और इस दरवाजे तक पहुंचने के लिए 999 सीढिय़ां भी चढऩी होती हैं। दरअसल 1518 मीटर ऊंचे लगभग 5000 फीट इस पहाड़ पर दुनिया की सबसे ऊंची गुफा है। इस गुफा को स्वर्ग का दरवाजा भी.


यह कहलाता है स्वर्ग का दरवाजा रोचक जानकारी.

इस स्वर्ग के द्वार तक पहुँचने के लिए आपको मौत का इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा तियानमेन गुफा समुद्र तल से लगभग 5.000 फीट ऊपर स्थित है जिसकी वजह से इसे दुनिया की सबसे ऊँची प्राकृतिक रूप से बनी आर्च के रूप में जाना जाता है कई लोग इस पहाड़ पर. Fasana– की ताज़ा ख़बर, Fasana– ब्रेकिंग न्यूज़ in. गुफा में पहुंचने पर एक अलग ही अनुभूति होती है। जैसे कि आप किसी काल्पनिक लोक में पहुंच गए हों। गुफा में उतरते ही सबसे​. इस गांव से होकर गुजरता है स्वर्ग का रास्ता. यात्रा मार्ग के दूसरे आधार शिविर शेषनाग में शेषनाग झील अद्भुत है, जिसकी खूबसूरती को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता। ऐसी मान्यता है कि जब भगवान शिव इस रास्ते से पवित्र गुफा तक गए थे तो उन्होंने इसी झील में अपने शेषनाग को छोड़ा था।.


China tianmen mountain called heaven gate Naukri Nama.

इस मंदिर के बारे कहा जाता है कि इस शिव मंदिर को स्वर्ग में निर्मित कर धरती पर स्थापित किया गया था। आईए जाने कि क्या सचमुच स्वर्ग में निर्मित हुआ कैलाश शिव मंदिर मौजूदा समय में यह गुफाएं आम लोगों के लिए बंद की हुई हैं।. जम्मू की 5 रहस्यमयी गुफाएं, जानें Navbharat Times. स्वर्ग की सीढ़ी तक पहुंचने वाली उस गुफा की रहस्यमय कहानी. अगर पांडवों ने सीधे स्वर्ग की सीढ़ी तक जाने के लिए ये रास्ता तैयार किया था तो गए क्यों नहीं क्या ये रास्ता hindi​.news18.com 26 अप्रैल 2019, AM. Read More: Video Viral Ahaf Adhi Haqiqat. Husband Spends 12 Years Digging A Home 63ft Underground For. अगर जीते जी देखना है स्वर्ग तो हो जाएँ तैयार. हम यहां चीन के तियानमेन माउंटेन की बात कर रहे हैं। इस पहाड़ पर लगभग 5 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित एक गुफा है जिसे लोग स्वर्ग का दरवाजा कहकर बुलाते हैं। बता दें, इस गुफा को दुनिया की.


Shantivan – शिवरात्रि महोत्सव देखने उमड़ी हजारों.

यह जगह लगभग 1518 मीटर ऊंचे पहाड़ों पर स्थित है यह जगह इस पहाड़ पर दुनिया की सबसे ऊंची गुफा है. इस गुफा को स्वर्ग का दरवाजा भी कहा जाता है और जिसका नाम है तियानमेन माउंटेन जो चाइना में बसा है. बताया जाता है कि 253 इसबी पहाड़ों. स्वर्ग Patrika. स्वर्ग गुफा दैनिक खुले टूर ह्यू शहर दैनिक खुले टूर वियतनाम खुले टूर करने के लिए यात्रा वियतनाम वियतनाम के केंद्रीय, Find Complete Details about स्वर्ग गुफा दैनिक खुले टूर ह्यू शहर दैनिक खुले टूर वियतनाम खुले टूर करने के लिए यात्रा. इस स्वर्ग के द्वार तक पहुँचने के लिए आपको मौत का. माणा गांव में अगर आप जाएंगे तो यहां देखने के लिए गणेश गुफा और व्यास गुफा है। गणेश गुफा, व्यास गुफा की तुलना में छोटी है। गुफा के अंदर जाते ही आपको वहां एक छोटी सी शिला दिखाई देगी। इस शिला में वेदों का अर्थ लिखा हुआ है। जड़ी बूटियों.


स्वर्ग की सीढी नहीं इस मंदिर में है मौत का दरवाजा.

ज़ीनेहगान गुफा भी ईलाम के दर्शनीय स्थानों में है। यह ईलाम के सालेहाबाद इलाक़े में स्थित है जिसे स्वर्ग गुफा भी कहा जाता है। यह भी उन जगहों में है जिन्हें ज़रूर देखना चाहिए। इसे गुफा को स्वर्ग गुफा इसलिए कहा जाता है कि वह. हिमालय का हृदय धरती का स्वर्ग World Gayatri Pariwar. टाइटल पढ़ कर आप सब हैरान हो गए होंगे की भला ऐसे हो सकता है? लेकिन हकीकत में दुनिया में एक ऐसी गुफा है जो स्वर्ग तक लेकर जाती है इस गुफा के बारे में दुनिया में काफी काम लोग जानते है ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसी कुछ जगह होती है. स्वर्ग का एक साल होता है धरती के 360 सालो के बराबर. स्वर्ग का एक साल होता है धरती के 360 सालो के बराबर, एक साल लड़ा था ये राजा देवताओ की तरफ से. एक बार देवता तब मुचकन्द एक गुफा में जाके सो गए जन्हा द्वापर में भगवान कृष्ण आये जिनके पीछे पीछे कालयवन आया जो की कृष्ण का दुश्मन था. कृष्ण के.


सतपुड़ा के जंगलों में छिपा है पृथ्वी का youth18.

उस समय की याद तो आज भी है लेकिन इतनी नहीं कि आप सब को बता सकूँ। लेकिन ये तो आज भी याद है कि यहां पहुंच कर एसा लगा था कि जैसे मैं स्वर्ग में आ गया हूँ। बद्रीनाथ साढे तीन हजार मीटर से भी ज्यादा कि उँचाई पर है। इसको भगवान विष्णु. सतपुड़ा के घने जंगलों के बीच एक ऐसा रहस्यमयी. नागद्वारी के अंदर चिंतामणि की गुफा है. यह गुफा 100 फीट लंबी है. इस गुफा में नागदेव की कई मूर्तियां हैं. स्वर्ग द्वार चिंतामणि गुफा से लगभग आधा किमी की दूरी पर एक गुफा में स्थित है. स्वर्ग द्वार में भी नागदेव की ही मूर्तियां. 1 चीन में घूमने लायक जगह Tourist Places China in Hindi Ye. दुनिया भर में एक से बढ़कर एक खूबसूरत जगहे हैं। इनमें से कुछ टूरिस्ट प्लेस तो बहुत खास होते हैं जो पर्यटकों की खासा पसंद माने जाते हैं। अक्सर पुराणों में स्वर्ग के रास्ते के बारे में जिक्र सुनने को मिलता है लेकिन क्या दुनिया. अमरनाथ यात्रा: स्वर्ग लोक की प्राप्ति का रास्ता. चीन में मौजूद तियानमेन माउंटेन को स्वर्ग की सीढ़ी भी कहा जाता हैं। आपको बता दें कि इस माउंटेन में मौजूद गुफा को दुनिया की सबसे ऊंची गुफा भी कहते हैं। शायद इसी वजह से इस गुफा के रास्ते को स्वर्ग का रास्ता भी कहा जाता हैं।. आदमी स्वर्ग में स्वर्ग में पृथ्वी की लालसा. इसके अलावा यहां गणेश गुफा, व्यास गुफा और भीमपुल भी देखने लायक है। सरस्वती नदी पर भीम पुल है, जिसके बारे में कहा जाता है कि जब पांडव स्वर्ग जा रहे थे तो उन्होंने इस स्थान पर सरस्वती नदी से जाने के लिए रास्ता मांगा था। हालांकि सरस्वती नदी.

स्वर्ग जाने का रास्ता दुनिया की सबसे ऊंची गुफा.

दरअसल 1518 मीटर ऊंचे इस पहाड़ पर दुनिया की सबसे ऊंची एक गुफा है। जिसे ही स्वर्ग का दरवाजा कहा गया है। इसे स्वर्ग का दरवाज़ा कहने के पीछे कई राज़ छिपे हुए हैं. लोगों की मान्यता है कि जो यहाँ पर एक बार भी आ जाता है उसे स्वर्ग में स्थान मिल. Gate of Heaven swarg lok ka rasta स्वर्ग का Welcome NRI. ऐसा ही एक रहस्य है चीन में. वैसे चीन में रहस्यमयी चीजों की कमी नहीं है, लेकिन ये रहस्य स्वर्ग के रास्ते को लेकर है. 1518 मीटर ऊंचे इस पहाड़ पर दुनिया की सबसे ऊंची एक गुफा है जिसे ही स्वर्ग का दरवाजा कहा गया है. 253 ईस्वी में पहाड़ का कुछ. इस गुफा को कहा जाता है स्वर्ग का रास्ता this नारी. उसमें अनेकों युक्तियों से यह सिद्ध किया था कि हिमालय का मध्य भाग प्राचीन काल में स्वर्ग कहलाता था। आर्य लोग मध्य एशिया से तिब्बत होकर वहाँ वशिष्ठ गुफा नाम की एक विशाल गुफा भी नगर से कुछ पहले है। रघुवंशी राजा दलीप, रघु और अज ने यहीं.


परियोजना घड़ी: जानबूझ कर ला स्वर्ग बोरीवली, मुंबई.

मगर उन्होंने कहानियां, निबन्ध और व्यंग्य भी लिखे हैं, और एक उपन्यास आदमी स्वर्ग में भी। आदमी स्वर्ग में में कथात्मकता के साथ मुखर व्यंग्यात्मकता भी है।देखा जाय मसाला चाय ःः शेर की गुफा में न्याय, शरद जोशी की कहानी. Следующая Войти Настройки. जम्मू की वो 5 रहस्यमयी गुफाएं, जिनके आगे नतमस्तक. ये जगह चीन में है यहां का तियानमेन माउंटेन है जिसकी ऊंचाई 5 हजार फीट है और ये दुनिया का सबसे ऊंचा पहाड़ है जहां एक गुफा है और इसे एक प्रमुख टूरिस्ट अट्रैक्शन प्लेस भी कहा जाता है। चीन में इस गुफा को स्वर्ग का दरवाजा भी कहा.


Mana Village A Journey to Last Indian Village in.in.

जम्मू कश्मीर जिसे भारत का स्वर्ग कहा जाता है प्राचीन काल से इसका आध्यात्मिक दष्टि से काफी महत्व रहा है। शिवपुराण से लेकर स्कंद पुराण और दूसरे कई अन्य पुराणों में इसका का जिक्र किया गया है। शिवपुराण के अनुसार यहां पर. News18 India चमगादड़ों से भरी गुफा के उस पार थी. महाभारत में लिखा है कि स्वर्ग की वो सीढ़ियां हिमालय के आखिरी छोपर बनी हैं. उस कथा के मुताबिक सिर्फ युधिष्ठिर ही स्वर्ग की सीढ़ी तक पहुंच पाए थे. आज की कहानी एक ऐसी गुफा से जुड़ी है, जिसका दूसरा सिरा ठीक उसी पर्वत पर. धरती का स्वर्ग धरती के नीचे की इन 8 जगहों के देखकर. यहां जाकर पक्का आप स्वर्ग में आने जैसा अनुभव करेंगे। अमेरिका के मिसौरी प्रांत में स्थित इस गुफा को 1880 के दशक में. नदीसूत्रः स्वर्ग ले जानी वाली नदी वैतरणी AajTak. ऐसी मान्यता भी है कि व्यास गुफा के पास से ही स्वर्ग लोक का रास्ता है, इसी रास्ते से पाण्डव स्वर्ग जा रहे थे लेकिन ठंड की वजह से चारों पाण्डव और द्रौपदी गल गयी सिर्फ युधिष्ठिर घर्म और सत्य का पालन करने के कारण ठंड को झेल पाये और सशरीर. 5 Pilgrimages You Must Take in This Lifetime Hindi Nativeplanet. जानकारी के मुताबिक, नागद्वारी के भीतर चिंतामणि की गुफा है। जो 100 फीट लंबी है। स्वर्ग द्वार चिंतामणि गुफा से करीबन आधा किमी की दूरी पर एक गुफा में मौजूद है। स्वर्ग द्वार में भी नागदेव की ही प्रतिमाएं हैं। गोवर्मेन्ट.


5 हजार फीट ऊंचे इस पहाड़ पर है स्वर्ग का दरवाजा Firkee.

Weird News in Hindi: स्वर्ग के द्वार तक पहुंचने के लिए यहां 999 सीढ़ियां हैं जिन्हें चढ़कर कोई भी यहां तक जा सकता है। इस पहाड़ पर लगभग 5 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित एक गुफा है जिसे लोग स्वर्ग का दरवाजा कहकर बुलाते हैं। बता दें, इस गुफा को दुनिया. अगर जीते जी देखना है स्वर्ग तो हो जाएँ तैयार, यहाँ. व्यास गुफ़ा एक प्राचीन गुफा है जो चमोली जिले के माणा गाँव में सरस्वती नदी के तट पर स्थित है। ऐसा माना जाता यहां पांडव भाइयों ने अपनी पत्नी द्रौपदी के साथ स्वर्ग की तीर्थयात्रा के रूप में जानी जाने वाली स्वर्गवाहिनी यात्रा शुरू की।. अधिकारियों का स्वर्ग कहे जाने वाले छुरा में हो. उत्तराखंड के जिला पिथौरागढ़ मे स्थित पाताल भुवनेश्वर धरती पर एक जगह ऐसी जगह है जहां पूरी सृष्टि के दर्शन होते हैं।.


शिव की यात्रा में स्वर्ग सा अहसास Naidunia.

ऐसा ही एक प्लेस चीन का तियानमेन माउंटेन है, जो वहां का प्रमुख टूरिस्ट अट्रैक्शन भी है। दरअसल, 1518 मीटर ऊंचे लगभग 5 हजार फीट इस पहाड़ पर दुनिया की सबसे ऊंची गुफा है। इस गुफा को स्वर्ग का दरवाजा भी कहा जाता है। बताया जाता है कि. धरती के नीचे मौजूद ये 8 खुफिया जगहें,जो कराएंगा. New Delhi: जम्मू कश्मीर जिसे भारत का स्वर्ग कहा जाता है प्राचीन काल से इसका….


बद्रीनाथ स्वर्ग का एहसास – दुनिया देखो.

भारत की उत्तरी सीमा पर स्थित इस गाँव के आसपास कई दर्शनीय स्थल हैं जिनमें व्यास गुफा, गणेश गुफा, सरस्वती मन्दिर, ऐसी मान्यता भी है कि व्यास गुफा के पास से ही स्वर्ग लोक का रास्ता है, इसी रास्ते से पाण्डव स्वर्ग जा रहे थे. Came across 999 Step in this treasure cave of china Slide 2 m. धरती पर देखना है स्वर्ग तो जाना पड़ेगा जमीन के अंदर, ये पांच जगहें मन मोह लेंगी आपका. फीचर डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली, Updated Fri, 20 Dec 2019 PM IST. रीड फ्लूट गुफा, चीन. 1 of 6. रीड फ्लूट गुफा, चीन फोटो Social media. स्वर्ग जाने की इच्छा किसकी.

...