Топ-100 ⓘ उसैदुल हक. हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन् 1975 को बद
पिछला

ⓘ उसैदुल हक. हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन् 1975 को बदायँ जिले के मोहल्ला मोलवी टोला में हुआ था। आपके वालिद का नाम हजरत अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिम कादरी है ..



उसैदुल हक
                                     

ⓘ उसैदुल हक

हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन् 1975 को बदायँ जिले के मोहल्ला मोलवी टोला में हुआ था। आपके वालिद का नाम हजरत अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिम कादरी है। आप बचपन सेे ही बहुत तीश्रण बुद्धि के व्यक्ति थे। अंगूठाकार|उसैदुल हक

जीवन परिचयः- आप का जन्म 05 मई सनृ 1975 को बदायूँ में हुआ। आपके वालिद का नाम हज़रत अबदुल हमीद मोहम्मद सालिम कादरी बदायूंनी है, आपने सन 1992 में कुरान शरीफ हिफज़ किया। और उसके बाद वालिद साहब के साथ बग़दाद शरीफ तशरीफ ले गये। फिर सनृ 1994 उसके बाद 1996 में वालिद माजिद के साथ बग़दाद शरीफ गये। सनृ 1999 में वहां के सज्जादा नशीन के हुकुम से आप मिस्र की यूनिवर्सिटी काहिरा जामे अलअजहर पढने के लिये गये। जहां से आपने 05 साल में पढाई पूरी की।

शहादत- जब आप सन 2014 में बग़दाद शरीफ तशरीफ ले गये तो 04 मार्च को एक आतंकवादी हमले का शिकार हो गये। आपकी कब्र मुबारक हज़रत ग़ौसे पाक के आहते में है। आपकी उम्र केवल 40 साल की रही।

आपकी एक नज्म काफी मशहूर हैः-

ज़ुलमते शब में अचानक दिले तीरा चमका

गौया वादिये तुआ में कोई शौला चमका

या शबे तार में जैसे यदे बैज़ा चमका

यानी सोई हुयी किस्मत का सितारा चमका

आयी आवाज़ कि तू इतना परेशान है क्यों

इतना अफसुरदा व रंजिदा व हैरान है क्यों

एक हस्ती है अगर उससे तू फरियाद करे

उस से गर शिकवा बे रहमी से याद करे

वह अभी तुझ को ग़मे दहर से आज़ाद करे

दिले ऩाशाद को तेरे वह अभी शाद करे

क्या बड़ी बात है उसको ग़मे हस्ती का ईलाज

वह तो कर देता है ड़ूबी हुई कश्ती का ईलाज

हां वही ग़ौस के हर ग़ौस है मंगता जिसका

परतवे नोज़े अज़ल है रूख़े ज़िया जिसका

औलिया चूमते हैं नक्शे कफे पा जिसका

शेर को खतरे में लाता नहीं कुत्ता जिसका

  • ^ Jaam-e-Noor Dehli

यूजर्स ने सर्च भी किया:

उसदल, उसदलहक, उसैदुल हक, तिराना. उसैदुल हक,

...

शब्दकोश

अनुवाद

Poetry night.

हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन् 1975 को बदायँ जिले के मोहल्ला मोलवी टोला में हुआ था। आपके वालिद का नाम हजरत अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिम कादरी है। आप बचपन सेे ही बहुत तीश्रण बुद्धि के व्यक्ति थे। अंगूठाकार उसैदुल हक जीवन परिचयः आप का जन्म. कुआ news in hindi, कुआ से जुड़ी खबरें, Breaking News. इसके बाद महफ़िल नात व मनकबत, बाद नमाजे असर फातिहा शहीदे बगदाद आलिमे रब्बानी मौलाना उसैदुल हक क़ादरी अजहरी के बाद रात में बाद नमाजे इशा महफ़िल नात व तकरीर का सिलसिला चलेगा​। दूसरे दिन 16 सितंबर को बाद नमाजे फज्र खत्मे. दरगाह क्रांति की दस्तक जनसत्ता Jansatta. बदायूं शहीद ए बग़दाद अलिमे रब्बानी हज़रत शेख उसैदुल हक मुहम्मद आसिम मियां कादरी मोहद्दिस बदायूंनी का पांचवां उर्स ताजदारे अहले सुन्नत महबूबे गौसे आजम हज़रत अल्लामा मौलाना अश्शाह शैख अब्दुल हमीद मुहम्मद सालिम मियां.


उसैदुल हक की जिंदगी के हर गोसे पर डाली रोशनी.

मौलाना शेख उसैदुल हक की शहादत की खबर देर शाम बदायूं वालों तक पहुंची। इस बीच शेख साहब के आवास में मातम की चीखें. उसैदुल हक. हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन्. Terrorist Attack On Indias Maulana Usaidul Haq Qadri In Iraq इराक में मौलाना उसैदुल हक़ क़ादरी पर आतंकवादी हमला और मुस्लिम देशों में सूफी मौलाना उसैदुल हक की मौत मौके पर ही हो गयी थी और चालक को अस्पताल में भर्ती कराया गया। दूसरे दिन. तीन रोज़ा उर्से क़ादरी का पंद्रह सितंबर से आगाज़. Опубликовано: 6 мар. 2014 г. कांग्रेस की प्रतियोगिता में तीन बच्चे फस्ट, अब. Продолжительность: 1:33.


उर्स शहीद ए बग़दाद 4मार्च को मनाया जाएगा Jdnews.

काजी जिला अब्दुल हमीद मोहम्मद सालिमुल कादरी की सरपरस्ती में निकाले गये जुलूस ए मोहम्मदी की सदारत नायब काजी ए ​जिला शेख उसैदुल हक कादरी ने अपने भाई हजरत मौलाना अतीफ मियां कादरी व मौलाना अज्जाम मियां कादरी के साथ. उसैदुल हक. सूचना हायफा, दीपोनेगोरो, हैफ़ेन. बदायूं संस्था आल इंडिया फनकार एकेडमी के तत्वावधान में मुहल्ला नाहर खां सराय में अल्लामा मौलाना हजरत शेख उसैदुल हक कादरी साहब की शहादत को याद करते. शहर में हजरत शेख उसैदुल हक कादरी साहब की लाइब्रेरी. बदायूं की आला हजरत ताजुल फुहुल खानकाह के प्रमुख मौलाना उसैदुल हक, चेन्नई की खानकाह अमीरिया के प्रमुख सैयद रजाउल हक आमिरी जिलानी, हैदराबाद की कादरी खानकाहे मुसाविया के प्रोफेसर अल्लामा सैयद काजिम पाशा, कर्नाटक के.

शहीदे बगदाद उसैदुल हक से मुल्क का नाम रोशन Amar Ujala.

पत्रिका का हालिया अंक भी शहीदे बगदाद शेख उसैदुल हक कादरी को समर्पित किया गया है, जो जिला काजी के साहबजादे थे और एक आतंकी हमले में उनका बगदाद में इंतकाल हो गया था। खास बात तो यह है कि इस पत्रिका में सिर्फ बदायूं का इतिहास ही नहीं. रविवार विशेष करांची में दमक रही बदायूं Naidunia. जिसमें 37 अंक प्राप्त कर मिसबाह उल हक, इनामुलहक और उसैदुल अज़हर प्रथम स्थान प्राप्त किये हैं। चुकी प्रथम स्थान किसी एक ही छात्र को मिल सकता है। इसके लिए लकी ड्रा निकाला जाएगा। प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय की घोषणा 15 सितंबर को जिला पंचायत.


हजरत शेख उसैदल की मौत पर बदायूं में शोक uttar pradesh.

आबिद ने किया पालिका की लाइब्रेरी का उदघाटन. शहर के मोहल्ला सोथा में हजरत उसैदुल हक कादरी शेख लाइब्रेरी का उदघाटन हजरत अतीफ मिया पूर्व मंत्री विधायक आबिद रजा, चेयरमैन फात्मा रजा ने किया।बता दें कि शहर में भंडार कुआं के नाम से जानी. Terrorist Attack On Indias Maulana Usaidul Haq Qadri In Iraq इराक. उझानी बदायूं । नायब काजी ए जिला हजरत शेख उसैदुल हक कादरी की बगदाद में शहादत पर ताजियाते जलसे में उनकी हयाते जिंदगी पर रोशनी डाली गई। कहा गया कि कौम को उनके बताए रास्ते पर चलकर​. हज़रत अली का यौमे पैदाइश मनाया गया a1news. इस मौके पर शमसुद्दीन शम्स, डॉ मुजाहिद नाज़ कादरी,जलाल कादरी,राशिद कादरी,नईमा कादरी,कनीज फातिमा कादरी,आसिया कादरी, डॉ अशरफ कादरी, उसैदुल हक,फहीम अली, रेहान,जावेद कादरी,​मुगय्यार, महबूब अंसारी,सगीर अली याकूब सैफी आदि. सब्जी मंडी परिसर स्थित जेपी पार्क में बाद नमाजे ईशा अजीमो शान शहीदे बगदाद कांफ्रेंस में मौलाना शेख उसैदुल हक की शहादत पर गौर फरमाया गया। उनकी शहादत से मुल्क और दुनिया के लिए. हजरत उसैदुल हक कादरी का जन्म 05 मई सन् 1975 को बदायँ जिले के मोहल्ला मोलवी टोला में हुआ था। आपके वालिद का नाम हजरत.

...