Топ-100 ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 40

ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 40



                                               

क़ादियाँ

क़ादियाँ भारतीय पंजाब में अमृतसर के उत्तर-पूर्व में गुरदासपुर ज़िले का चौथा बड़ा शहर और नगर निगम है। इस क़स्बे में कई ऐतिहासिक घटनाएँ घटित हुई थी। 1530 में मिर्ज़ा हादी बेग़ ने यह स्थान को बसाया था। संस्था के संस्थापक ने 13 मार्च 1903 में इसकी नी ...

                                               

अहमदिया

अहमदिया एक धार्मिक आंदोलन है, जो के 19वीं सदी के अंत में भारत में आरम्भ हुआ। इसका प्रारंभ मिर्जा गुलाम अहमद की जीवन और शिक्षाओं से हुआ। अहमदिया आंदोलन के अनुयायी गुलाम अहमद को मुहम्मद के बाद एक और पैगम्बर मानते हैं जबकि इस्लाम में पैगम्बर मोहम्मद ...

                                               

पेगन

पेगन एक शब्द है जिसका उपयोग पहली बार चौथी सदी में पूर्वकालीन ईसाई लोगों ने रोमन साम्राज्य के बहुदेववादी धर्म को मानने वालों के लिये किया था। पेगन एक निन्दात्मक शब्द हुआ करता था जिसका उपयोग बहुदेववादी धर्म को ईसाई धर्म से नीचा दिखाने के निमित्त कि ...

                                               

अली इब्न अबी तालिब

अली इब्ने अबी तालिब का जन्‍म 17 मार्च 600 मुसलमानों के तीर्थ स्थल काबा के अन्दर हुआ था। वे पैगम्बर मुहम्मद के चचाजाद भाई और दामाद थे और उनका चर्चित नाम हज़रत अली है। वे मुसलमानों के ख़लीफ़ा के रूप में जाने जाते हैं। उन्होंने 656 से 661 तक राशिदून ...

                                               

इस्लामी पवित्र ग्रन्थ

मुस्लिम समुदाय के विश्वासों के आधापर यह वह पुस्तक हैं जिनको अल्लाह ने अनेक पैगम्बरों पर अवतरण किया। मानव चरित्र में मानव कल्याण के लिए जब आवश्यकता हुई तब पैगम्बरों को भेजा और सन्मार्ग की शिक्षा दी। और इस शिक्षण के लिए आसमानी किताबें, सहीफे उतारे ...

                                               

इस्लाम के पैग़म्बर

इस्लाम के पैग़म्बर में "दूत" शामिल हैं, एक मलक के माध्यम से एक दिव्य प्रकाशन के लायक ; और पैग़म्बर ", शरीयत वाला जो मुसलमानों का मानना ​​है कि वे "अल्लाह द्वारा भेजे गए वह व्यक्ती अल्लाह का संदेश लोगों तक लेजाकर समझ सकते थे। इस्लामी पैगम्बरों का ...

                                               

सिदी बौशकी से ज़ाविया

सिदी बौशकी से ज़ाविया या थोनिया से ज़ाविया अल्जीरिया में थोनिया में स्थित एक पूजा स्थल है। वह अल्जीरिया में जोया में से एक है जो धार्मिक मामलों और वक्फ मंत्रालय और अल्जीरिया के धार्मिक संदर्भ की देखरेख में रहमानिया आदेश से संबद्ध है।

                                               

अक़ीदह

इस्लाम धर्म के प्रमुख मत यह हैं। इसे अक़ीदह कहते हैं: मुसलमान तक़दीर को मानते हैं। तक़दीर का मतलब इनके लिये यह है कि ईश्वर बीते हुए समय, वर्तमान और भविष्य के बारे में सब जानता है। कोई भी चीज़ उसकी अनुमति के बिना नहीं हो सकती है। मनुष्य को अपनी मन ...

                                               

अज़-जु़मार

                                               

अज़रबाइजान में इस्लाम धर्म

अज़रबाइजान में इस्लाम धर्म अज़रबाइजान की आबादी का 96.9% से अधिक मुस्लिम है। शामिल हैं। बाकी की आबादी अन्य धर्मों का पालन करती है या गैर-धार्मिक है। हालांकि वे आधिकारिक तौपर प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं। मुस्लिम बहुमत के बीच, धार्मिक पालन भिन्न होता ...

                                               

अदब (इस्लाम)

अदब: व्यवहार के संदर्भ में, निर्धारित इस्लामी शिष्टाचार को संदर्भित करता है: "शोधन, अच्छा व्यवहार, नैतिकता, सभ्यता, सभ्यता, मानवता" हालाँकि आदिब के दायरे और विवरणों की व्याख्या अलग-अलग संस्कृतियों में भिन्न हो सकती है, इन व्याख्याओं में आम तौपर क ...

                                               

अबू उबैदाह इब्न अल-जर्राह

अबू उबैदाह इब्न अल-जर्राह ; Abu Ubaidah Ibn Al-Jarrah: अरबी: أبو عبيدة عامر بن عبدالله بن الجراح ‎) ‏‎ इस्लामी पैंगबर हजरत मुहम्मद सहाब के सहाबाओ में से एक थे और खलीफा हजरत उमर के खिलाफत शासन काल में एक बड़े वर्ग के कमांडर थे तथा खलीफा हजरत उमर क ...

                                               

अबू हनीफ़ा

नोमान इब्न साइत इब्न ज़ौता इब्न मरज़ुबान, जो अबू हनीफ़ा के नाम से मशहूर हैं और इन्हें इसी नाम से भी जाना जाता है, अबू हनीफ़ा सुन्नी "हनफ़ी मसलक" इसलामी न्यायशास्त्र के संस्थापक थे। यह एक प्रसिद्ध इस्लामी विद्वान थे। ज़ैदी शिया मुसलमानों में इन्हे ...

                                               

अब्दुल्ला इब्न अल-ज़ुबैर

अब्दुल्लाह इब्न अल-जुबैर या इब्न जुबैर एक अरब सहाबी थे, और जिनकी मां असमा बिन्त अबी बकर थी। वह इस्लाम के पैगंबर हज़रत मुहम्मद सहाब की पत्नी बीबी आइशा क भानजे थे। अब्द-अल्लाह इब्न अल-जुबैर हिजरा के बाद मदीना में पैदा होने वाले पहले मुस्लिम थे। हज़ ...

                                               

अब्बास इब्न अली

अल-अब्बास इब्न अली, कमर बनी हाशिम, शिया मुसलमानों के पहले इमाम और सुन्नी मुसलमानों के चौथे खलीफ हज़रत इमाम अली और फातिमा के पुत्र थे। अब्बास को शिया मुसलमानों द्वारा उनके भाई हज़रत हुसैन, के परिवार के प्रति सम्मान और कर्बला की लड़ाई में उनकी भूमि ...

                                               

अम्र इब्न अल-आश

अम्र इब्न अल आश: Amr ibn al-‘As: एक अरब सैन्य कमांडर थे जो 640 की मुस्लिम विजय प्राप्त करने के लिए सबसे प्रसिद्ध है। हजरत मुहम्मद सहाब के समकालीन और एक सहाबा थे जिन्होने 8 हिजरी में इस्लाम धर्म स्वीकार करने के बाद मुस्लिम पदानुक्रम के माध्यम से प ...

                                               

अरबी संस्कृति

अरबी संस्कृति वे संस्कृतियाँ हैं जो अरबी राष्ट्रों में लगती हैं। अरब लीग में २२ विभीन्न देश हैं जो अधिकतर मध्य पूर्व उत्तर अफ़्रीका में मौजूद हैं, इसलिए अरबी संस्कृतियाँ सामान्यत: उन क्षेत्रों की हैं; परंतु कई अरबी संस्कृतियाँ उन क्षेत्रों से बाह ...

                                               

अल-अक्सा मस्जिद

मस्जिद अल-अक्सा ; यरूशलम में स्थित यह मस्जिद इस्लाम धर्म में मक्का और मदीना के बाद तीसरा पवित्र स्थल है। यरूशलम पैगंबर हजरत मुहम्मद साहब के जीवनकाल के दौरान और उनकी मृत्यु के तुरंत बाद के वर्षों के दौरान एक दूरदर्शी प्रतीक रहा जैसा कि मुस्लिमों न ...

                                               

अल-मुख्तार ताकाफी

अल-मुख्तार इब्न अबी उबायदाह अल-ताकाफी, इराक में स्थित कुफा के एक प्रारंभिक इस्लामी क्रांतिकारी थे, जिन्हीने उमय्यद ख़िलाफ़त के खिलाफ कर्बला की लड़ाई में हज़रत हुसैन इब्न अली की मृत्यु के प्रति बदला लेने के खिलाफ विद्रोह का नेतृत्व किया था।.

                                               

अली इब्न हुसैन ज़ैनुलआबिदीन

अली इब्न हुसैन जैनुलअबिदीन और इमाम अल-सजद के नाम से जाने जाते है, शिया समुदाय के 12 इमामों से चौथे इमाम थे। और इस्माइलिस के लिए तीसरे इमाम थे, अपने पिता हज़रत हुसैन इब्न अली, उनके चाचा हज़रत हसन इब्न अली और उनके दादा हज़रत अली के बाद इमाम बने थे। ...

                                               

अल्लामा

अल्लामा, अल्लामह और जिसे अल्लामा भी लिखा जाता है, इस्लामी फिकह, न्यायशास्और दर्शन के विद्वानों द्वारा ग्रहण की जाने वाली एक मानद उपाधि है। इसका उपयोग सुन्नी इस्लाम के साथ-साथ शिया इस्लाम में, दक्षिण एशिया, मध्य पूर्व और ईरान में एक सम्मानजनक के र ...

                                               

अल्लाह

अल्लाह अरबी भाषा में ईश्वर के लिये शब्द है। इसे मुख्यतः मुसलमानों और अरब ईसायों द्वारा भगवान का उल्लेख करने के लिये प्रयोग में लिया जाता है।

                                               

अहमद मोहम्मद घड़ी घटना

अहमद मोहम्मद, इरविंग, टेक्सास का एक १४ साल का छात्र है जिसे घर का बना घड़ी पाठशाला लेके जाने के लिए गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार होने के बाद, उसे अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा और फेसबुक संस्थापक मार्क ज़ुकेरबर्ग से सहयता मिला।

                                               

इंडोनेशिया में इस्लाम धर्म

इंडोनेशिया ; संवैधानिक रूप से एक धर्मनिरपेक्ष राज्य है लेकिन सरकारी तौपर केवल छह औपचारिक धर्मों की पहचान है, इस्लाम देश में प्रमुख धर्म है। इंडोनेशिया में भी दुनिया के किसी भी अन्य देश की तुलना में मुसलमानों की एक बड़ी आबादी है, जिसमें लगभग 20.29 ...

                                               

इबादी

इबादी: यह एक आंदोलन है, जिसे इबादी आंदोलन, इबादिज़म या इबादिय्या कहते हैं। और इबादी भी कहते हैं। । यह इस्लाम धर्म का ही एक पंथ या पाठशाला है, जो ओमान और ज़ांज़ीबार में पाया जाता है। यह अल्जीरिया, तुनीशिया, लिबिया और पश्चिम आफ्रिका,दक्षिण अफ्रिका ...

                                               

इब्राहिम इब्न मुहम्मद

इब्राहिम इब्न मुहम्मद इस्लाम के पैग़म्बर मुहम्मद और उन्हें मिस्र के ईसाई राजा द्वारा भेंट में दी गईं गुलाम मरिया अल-क़ीब्टिय्या के बेटे थे। केवल 18 महीने की आयु में इनकी मृत्यु हो गयी।

                                               

इमामह (शिया-सिद्धांत)

इमामत नबुवत के बाद बहुत बडा मकाम हे इसका अनदाजा कुरआन मे मोजुद उस आयत से लगा सकते हे जिसमे ह इबराहीम ने दुआ कि के मेरी नस्ल मे इमामत बाकी रख हुजुर स० के बाद १२ इमाम हुए हे इन्मे ग्यारा तो ज्न्म लेकर उस वक्त के राजाओ द्वारा शहीद करवाए जा चूके हे प ...

                                               

इल्म अल-कलाम

इल्म अल-कलाम इस्लाम में इस शब्दश का अर्थ "प्रवचन का विज्ञान"), आम तौपर कलाम के लिए पूर्वनिर्धारित और कभी-कभी "इस्लामिक शैक्षिक धर्मशास्त्र" कहा जाता है, एक इस्लामी उपक्रम है जिसे स्थापित करने और बचाव करने की जरूरत से पैदा होता है संदेह और विरोधिय ...

                                               

इस्रा और मेराज

इसरा और मेराज रात के सफ़र के दो हिस्सों को कहा जाता है। इस रात मुहम्मद के दो सफ़र रहे, मक्का से बैत अल-मुखद्दस, फिर वहां से सात आसमानों की सैर करते अल्लाह के सामने हाज़िर होकर मिले। इस्लामी मान्यताओं के अनुसार प्रेषित हजरत मुहम्मद साहब ६२१ ई। में ...

                                               

प्रवेशद्वार: इस्लाम

                                               

इस्लाम एवं अन्य धर्म

अन्य धर्मों से इस्लाम का संपर्क समय और परिस्थ्ति से प्रभावित रहा है। यह संपर्क मुहम्मद साहब के समय से ही शुरु हो गया था। उस समय इस्लाम के अलावा अरब में ३ परम्पराओं के मानने वाले थे। एक तो अरब का पुराना धर्म जोकि इस्लाम यानि दीने इब्राहीमी था था ज ...

                                               

इस्लाम का इतिहास

अन्तिम नबी मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का जन्म 570 ईस्वी में मक्का में हुआ था। लगभग 613 इस्वी के आसपास मुहम्मद साहब ने लोगों को अपने ज्ञान का उपदेशा देना आरंभ किया था। इसी घटना का इस्लाम का आरंभ जाता है। हालाँकि इस समय तक इसको एक नए धर्म के र ...

                                               

इस्लाम का प्रसार

पैगम्बर हज़रत मुहम्मद साहब की मृत्यु के बाद के वर्षों में शुरुआती मुस्लिम विजय ने खलीफाओं के निर्माण का नेतृत्व किया, एक विशाल भौगोलिक क्षेत्पर शासन कर लिया; इस्लाम में रूपांतरण मिशनरी गतिविधियों, विशेष रूप से इमाम के लोगों द्वारा बढ़ाया गया था, ...

                                               

इस्लाम के अनुसार विश्व का विभाजन

आरम्भिक इस्लामी न्यायविदों ने विश्व को दारुल-इस्लाम और दारुल-हरब आदि में बाँटा है यद्यपि कुरान और हदीस में इस प्रकार की संकल्पना मौजूद नहीं है। दारुल इस्लाम - ऐसे तमाम मुस्लिम बहुल इलाके, जहाँ इस्लाम का शासन चलता है, सभी इस्लामिक देश इस परिभाषा क ...

                                               

इस्लाम के राष्ट्र

इस्लाम धर्म के राष्ट्र निम्न हैँ- मलेशिया लेबनान इंडोनेशिया संयुक्त अरब अमीरात किरगिज़िस्तान इरान फ़िलीस्तीन अज़रबैजान ट्युनीशिया यमन अफ़ग़ानिस्तान सीरिया तुर्की अल्जीरिया सउदी अरब सुडान लीबिया पाकिस्तान ब्रुनेई कज़ाकिस्तान उज्बेकिस्तान भारत उइग़ ...

                                               

इस्लाम के सम्प्रदाय एवं शाखाएँ

मोहम्मद साहब की मृत्यु के बाद इस्लाम में परम्परा, विधिशास्त्र तथा विचारों के आधापर मतभेद होते रहे और अलग-अलग सम्प्रदाय बनते गये। वर्तमान समय में इस्लाम में बहुत से सम्प्रदाय और शाखाएँ हैं। इस्लामी न्यायशास्त्र फ़िक़ह के आधापर मुस्लिम समुदाय तीन स ...

                                               

इस्लाम में अनीयनवाद

कोई इस्लामी चित्र या दृश्य में ईश्वर का चित्रण मौजूद नहीं हैं क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इस तरह के कलात्मक चित्रणों से मूर्तिपूजा हो सकती है। इसके अलावा, मुसलमान मानते हैं कि भगवान अविभाज्य है, कोई भी दो या तीन आयामी चित्रण असंभव है। इसके बजाय, ...

                                               

इस्लाम में अल्लाह के नाम

इस्लाम में अल्लाह के नाम: परंपरा के मुताबिक, इस्लाम में अल्लाह के कम से कम 99 नाम हैं, जिन्हें अस्माउ अल्लाहि अल-हुसना अल्लाह के सुंदर नाम के रूप में जाना जाता है । 9वीं शताब्दी के हदीस के संग्रह के अनुसार, "99 नाम" होने की परंपरा सही صحيح - विश् ...

                                               

इस्लाम में तलाक़

इस्लाम धर्म में,विवाह, जिसे निकाह कहा जाता हैं एक पुरूष और एक स्त्री की अपनी आज़ाद मर्ज़ी से एक दूसरें के साथ पति और पत्नी के रूप में रहने का फ़ैसला ज़िम्मेदारियों को उठाने की शपथ ले, एक निश्चित रकम जो आपसी बातचीत से तय हो, मेहर के रूप में औरत को ...

                                               

इस्लाम में धर्मत्याग

इस्लाम में धर्मत्याग का अर्थ किसी मुस्लिम द्वारा सोच-समझकर इस्लाम का त्याग करने से है। इसके अन्तर्गत किसी दूसरे धर्म को अपनाना, भी सम्मिलित है। इस्लाम का त्याग की परिभाषा तथा उसके लिये निर्धारित दण्ड अत्यन्त विवादास्पद हैं तथा इस पर इस्लामी विद्व ...

                                               

इस्लाम में स्त्री

मुस्लिम महिलाओं के व्यवहार में और विभिन्न समाजों की महिलाओं के व्यवहार में व्यापक रूप से भिन्नता है क्योंकि, इस्लाम के प्रति उनका आज्ञापालन इसका एक प्रमुख कारक होता है जो अपने जीवन को अलग-अलग स्तर तक प्रभावित करता है और उन्हें एक तुल्य पहचान प्रद ...

                                               

इस्लामिक यौन न्यायशास्त्र

इस्लामिक यौन न्यायशास्त्र इस्लाम में कामुकता के इस्लामी कानून, जैसे कुरान, मुहम्मद और धार्मिक लोगों को धार्मिक नियमों पर निर्भर करता है। जबकि अधिकांश परंपराएं ब्रह्मचर्य को हतोत्साहित करती हैं, सभी लिंगों के बीच किसी भी संबंध के संबंध में सख्त पव ...

                                               

इस्लामी अक्षरांकन

इसलामी अक्षरांकन, या अरबिक अक्षरांकन, एक ऐसी कला है जो क़लम से हस्ताक्षरों से सुंदर रूप में अक्षरांकन करना। यह खास तौर से अरबी अक्षरों को लिखने में उपयोगित है, जो कि इस्लामी संस्कृती का अंग माना जाता है। और यह अक्षरांकन फ़ारसी अक्षरांकन से लिया ग ...

                                               

इस्लामी आतंकवाद

इस्लामी आतंकवाद अपने को मुसलमान कहने वाले चरमपंथियों द्वारा किये गये आतंक को इस्लामी आतंकवाद कहते हैं। ये तथाकथित अापने भांति-भांति के राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिये आतंक फैलाते हैं। मध्य पूर्व, अफ्रीका, यूरोप, दक्षिणपूर्व एशिया, भारत एवं ...

                                               

इस्लामी गणराज्य

इस्लामी गणराज्य, या इस्लामी जम्हूरिया एक ऐसी रियासत या राजनैतिक व्यवस्था होती है, जिसे संविधान में बतौर इस्लामिक गणराज्य निर्दिष्ट एवं वर्णित किया गया हो। इस शब्दावली की विस्तृत परिभाषा, देश-दर-देश एवं संविधान-दर-संविधान भिन्न हो सकती है, परंतु स ...

                                               

इस्लामी त्यौहार

मुस्लिम त्यौहार: दुनिया में मुस्लिम समूह, अलग पर्वों को अलग दिवसों में मनाते हैं। हर दिवस का अपना एक महत्व होता है। जैसे दीगर धार्मिक समूह विशेश पर्व दिन मनाते हैं, ठीक उसी तरह मुस्लिम समूह भी अनेक त्यौहार मनाता है। मास के अनुसार देखें तो मुस्लिम ...

                                               

इस्लामी दर्शन

इस्लामी दर्शन: अरब दर्शन, जिसे ज्यादा सही तौपर मुस्लिम दर्शन कहा जाता है, मुख्यत: ग्रीक दर्शन के प्रभावक्षेत्र में तेजी के साथ विकसित होता हुआ चार मुख्य आयामों में प्रकट होता है: सूफीवाद रहस्यवाद तथा दर्शन अशअरवाद पांडित्य वाद, मुतज़्लवाद बुद्धिव ...

                                               

इस्लामी दुनिया

इस्लामी दुनिया ;: और मुस्लिम विश्व सामान्यतः इस्लामी समुदाय का उल्लेख करता है, जिसमें वह सभी शामिल हैं जो इस्लाम धर्म का पालन करते हैं, या उस समाज के लिए जहां इस्लाम का अभ्यास होता है। एक आधुनिक भू- राजनीतिक अर्थ में, ये शब्द उन देशों का उल्लेख क ...

                                               

इस्लामी न्यायशास्त्र के सिद्धांत

इस्लामी न्यायशास्त्र के सिद्धांत: अन्यथा उसूल अल-फ़िकह के रूप में जाना जाता है, जिसकी उत्पत्ति, स्रोतों और सिद्धांतों का अध्ययन और महत्वपूर्ण विश्लेषण है। इसी पर इस्लामी न्यायशास्त्र आधारित है। पारंपरिक रूप से चार मुख्य स्रोत, समान कारण कियास) का ...

                                               

इस्लामी संस्कृति

दुनिया भर के मुसलमानों में पाए जाने वाले आम ऐतिहासिक रीति रवाजों को व्यक्त करने वाली शब्द ही इस्लामी संस्कृति है। इस्लामी संस्कृति, संयुक्त रूप से अरबी, ईरानी, तुर्की, मंगोलिया, भारत, मलाईयाई और इंडोनेशियन संस्कृतियों का मिश्रम है।

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →