Топ-100 ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 184

ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 184



                                               

लोककथा

लोककथाएँ वे कहानियाँ हैं जो मनुष्य की कथा प्रवृत्ति के साथ चलकर विभिन्न परिवर्तनों एवं परिवर्धनों के साथ वर्तमान रूप में प्राप्त होती हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कुछ निश्चित कथानक रूढ़ियों और शैलियों में ढली लोककथाओं के अनेक संस्करण, उसके न ...

                                               

हीरामन

                                               

वाचिक परम्परा

कथा, कहानी, लोकोक्ति, गान, भजन, कविता या अन्य मौखिक साधनों द्वारा सांस्कृतिक तत्वों और परम्परा का संचार वाचिक परम्परा कहलाती है। वाचित परम्परा के द्वारा विभिन्न समाज वाचिक इतिहास, वाचिक साहित्य, वाचिक कानून तथा अन्य ज्ञान का एक पीढ़ी से दूसरी पीढ ...

                                               

कहानीकारी

                                               

आदिवासी संगीत

                                               

जातीय संगीत

                                               

संरक्षक वस्त्र

                                               

जूते-मोज़े

                                               

सिर के वस्त्र

                                               

टोपी

टोपी सिपर पहने जाने वाला एक वस्त्र होता है। यह भिन्न आकारों में मिलता है और इसके कई प्रयोग होते हैं, मसलन सिर को सर्दी, वर्षा, हिम व धूप से बचाना, निर्माण या अन्य कार्यों में गिरती हुई वस्तुओं से सिर को सुरक्षित रखना, पारम्परिक रूप से पद, धर्म, स ...

                                               

बिसपोक (आदेश के मुताबिक)

बिसपोएक ब्रिटिश अंग्रेजी शब्द है, जिसका उपयोग बहुत सारे वैसे अनुप्रयोगों के लिए होता है, जिनका मतलब खरीदारों द्वारा दिगए विशिष्ट निर्देशों के मुताबिक किसी वस्तु का निर्माण करना होता है। हालांकि अब इसका प्रयोग कंप्यूटर सॉफ्टवेयर से लेकर लक्जरी कार ...

                                               

लक्मे फैशन वीक

लक्मे फैशन वीक लक्मे फैशन वीक में जगह लेता है एक द्वि-वार्षिक फैशन इवेंट है मुंबई। इसकी सेहतगाह शो फरवरी में जगह लेता है whiles सर्दी-उत्सव दिखाने के हर अगस्त जगह लेता है। यह एक प्रमुख फैशन घटना भारत में माना जाता है। द्वारा चलाया जाता है फैशन डि ...

                                               

फ़ैशन डिज़ाइन

                                               

फ़ैशन डिज़ाइनर

                                               

रूमाल

रूमाल आम तौपर पतला कपड़े या कागज का एक चौकोर टुकड़ा होता है जिसे जेब या पर्स में ले जाया जा सकता है, और जिसका उद्देश्य व्यक्तिगत स्वच्छता होता है जैसे अपना हाथ, चेहरे या नाक को पोंछना। एक रूमाल को कभी-कभी सूट की जेब में पूरी तरह से सजावट के रूप म ...

                                               

अनारकली सूटस्

कुर्ता जो आवरन का एक मुख्य हिस्सा है यह सिल्क, मखमल, जियोर्जट्टे, शिफॉन, क्रेप, ब्रोकेड, चंदेरी या कपास किसी भी प्रीमियम कपड़ा सामग्री से बनाया हुआ है। यह इस तरह से सिलाया गया है जो बस्ट कि ऊपरी हिस्से पर फिट होता है और निचे का हिस्सा पैर के पास ...

                                               

पटियाला सलवार

पटियाला सलवार पंजाबी पोशाक का एक हिस्सा है। इसे उर्दू में शलवार भी कहा जाता है। यह आम तौर उत्तरी भारत में पंजाब राज्य के शहर पटियाला में महिलाओं द्वारा पहनी जाने वाली पोशाक है। पहले ज़माने में सलवार पटियाला के शाही परिवार की महिलाओं के द्वारा पहन ...

                                               

लंगोट

लंगोट पुरुषों द्वारा पहना जाने वाला एक अन्त:वस्त्र है। यह पुरुष जननांग को ढककर एवं दबाकर रखने में सहायता करता है। भारत में इसका उपयोग पहले बहुत होता था। आजकल भी ब्रह्मचारी, साधु-सन्त, अखाड़ा लड़ने वाले पहलवान आदि इसका उपयोग करते हैं। लंगोट किसी भ ...

                                               

भारत का वस्त्र उद्योग

                                               

वर्दी

किसी संस्था के सदस्यों द्वारा, संस्था का कार्य करते समय, पहना जाने वाला मानक वस्त्र वर्दी कहलाता है। आधुनिक समय में सेना के अधिकारी और सैनिक, अर्ध-सैनिक बल पुलिस, विद्यार्थी, वकील आदि वर्दी पहनते हैं।

                                               

खेलवस्त्र

                                               

कैलिको

मूलत: भारत के कालीकट नाम पर वहाँ से इंग्लैंड जानेवाले सूती वस्त्र को कैलिको कहते थे। अब साधारण बुनावट के सफेद सूती कपड़े को इंग्लैंड में कैलिको कहते हैं। कैलिको में अंतर्गत महीन से महीन मलमल से लेकर मोटे से मोटे मारकीन तक संमिलित है। साधारणत: कैल ...

                                               

क्रेप

क्रेप झिलमिल बनावट को रेशमी कपड़ा जो देखने में एक अजीब ढंग का कड़ा और सलवट पड़ा जान पड़ता है। यह कड़े रेशमी सूत से बुना जाता है। इसकी दो किस्में प्रचलित हैं- नर्म पूर्वी अथवा कैंटन क्रेप और कड़ा क्रेप। कैंटन क्रेप देखने में लहरदार दिखाई पड़ता है। ...

                                               

खादी

खादी या खद्दर भारत में हाथ से बनने वाले वस्त्रों को कहते हैं। खादी वस्त्र सूती, रेशम, या ऊन से बने हो सकते हैं। इनके लिये बनने वाला सूत चरखे की सहायता से बनाया जाता है। खादी वस्त्रों की विशेषता है कि ये शरीर को गर्मी में ठण्डे और सर्दी में गरम रख ...

                                               

छपाई (वस्त्रों की)

वस्त्रों के उपर निश्चित पैटर्न या डिजाइन के अनुसार रंग चढ़ाने की प्रक्रिया का वस्त्रों की छपाई कहते हैं। एक अच्छी छपाई वह है जिसमें रंग सूत के साथ एकाकार हो जाय ताकि घर्षण से या धुलाई करने पर भी रंग न छूटे। छपाई, रंजन से सम्बन्धित तो है किन्तु भि ...

                                               

जरी

जरी, सोने का पानी चढ़ा हुआ चाँदी का तार है तथा इस तार से बने वस्त्र भी जरी कहलाते हैं। जरी वस्त्र सोरे, चाँदी तथा रेशम अथवा तीनों प्रकार के तारों के मिश्रण से बनता है। इन तारों की सहायता से बेलबूटे तथा उभाड़दार अभिकल्प बनाए जाते हैं। बुनकर बुनाई ...

                                               

टी-शर्ट

                                               

तकनीकी वस्त्र

तकनीकी वस्त्र उन वस्त्रों को कहते हैं जिनका निर्माण ऐसे उद्देश्यों के लिये किया जाता है जिनके निर्माण में सौन्दर्य गौण होता है और कार्य-सम्पादन मुख्य मुद्दा होता है। यह एक उभरता हुआ क्षेत्र है। तकनीकी वस्त्रों का बहुत से अन्य उद्योगों में उपयोग ह ...

                                               

तन्तुकर्षण

                                               

धागा

धागा सूत या अन्य कोई पतला तंतू या रेशा होता है जिसका प्रयोग सिलाई के लिए किया जाता है। यह कपास, नायलॉन, रेशम या अन्य किसी सामग्री का बना हुआ होता है।

                                               

पटौला साड़ी

पटौला साड़ी, हथकरघे से बनी एक प्रकार की साड़ी है जो गुजरात के पाटण में बनायी जाती है। यह प्रायः रेशम की बनती है। पटोला शब्द बहुवचन का शब्द है जिसका एकवचन पटोलू है। पटोला साड़ियाँ बहुत कीमती होतीं हैं। किसी समय ये वस्त्र राजघराने या धनाढ्य लोग ही ...

                                               

बनारसी साड़ी

बनारसी साड़ी एक विशेष प्रकार की साड़ी है जिसे विवाह आदि शुभ अवसरों पर हिन्दू स्त्रियाँ धारण करती हैं। उत्तर प्रदेश के चंदौली, बनारस, जौनपुर", आजमगढ़, मिर्जापुऔर संत रविदासनगर जिले में बनारसी साड़ियाँ बनाई जाती हैं। इसका कच्चा माल बनारस से आता है। ...

                                               

बुनाई (वीविंग)

बुनाई वस्त्र बुनाई की वह विधि है जिसमें ताना एवं बाना नामक दो भिन्न तथा परस्पर लम्बवत धागों का समूह को आपस में गूंथकर वस्त्र बनाया जाता है। बुनाई के अलावा भी कई विधियों से वस्त्र बनाये जाते हैं, जैसे- निटिंग, लेस बनाना, फेल्टिंग, तथा ब्रेडिंग या ...

                                               

मखमल

मखमल हलकी बुनाई के रोयेंदार रेशमी कपड़े को कहते हैं। यह साधारण रेशम या प्लश की रोएँदार सतह पर बनाया जाता है। यह सतह बुनाई करते समय ऐंठे हुए रेशमी धागों को पृथक्-पृथक् करने से विकसित होती है। अलग-अलग होने पर यह धागे गुच्छे के रूप में रेशमी, सूती य ...

                                               

मलमल

मसलिन या मलमल सरल बुनाई वाला सूती वस्त्र है। मसलिन शब्द मसलीपट्नम नामक भारतीय पत्तन से आया है। प्रसिद्ध है कि ढाका का मलमल इतनी महीन होती थी मसलिन की साड़ी अंगूठी से निकल जाय किन्तु अंग्रेजों की दमनकारी व्यापारिक नीति के कारण यह उद्योग नष्ट हो गय ...

                                               

रेयान

रेयान, पुनर्जीवित सेलूलोज़ से निर्मित एक तंतु है। क्योंकि इसका उत्पादन प्राकृतिक रूप से मिलनेवाले बहुलकों से किया जाता है, इसलिए वास्तव में यह न तो पूरी तरह से एक कृत्रिम तंतु है और न ही एक प्राकृतिक तंतु है; यह एक अर्द्ध कृत्रिम तंतु है। कपड़ा उ ...

                                               

रेशा

रेशा किसी प्राकृतिक या कृत्रिम पदार्थों के बने पतले तंतु को कहते हैं। यह ऊन, कपास, कागज़, पेड़ों की छाल, पॉलिएस्टर और कई अन्य सामग्रियों के हो सकते हैं। आम तौपर पतले तंतु को ही रेशा कहा जाता है। मोटे तंतुओं को अक्सर रज्जू कहा जाता है। मानवीय प्रय ...

                                               

लुंगी

लुंगी एक वस्त्र है। यह एक बर्मा भाषा का शब्द है और बर्मा की राष्ट्रीय पोषाक है। यह इंडोनेशिया, बांग्लादेश, भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बर्मा, ब्रुनेई, मलेशिया, नेपाल, सिंगापुर, थाईलैण्ड, हॉर्न ऑफ़ अफ़्रिका और दक्षिणी अरबी प्रायद्वीप की पारम्परिक प ...

                                               

वस्त्र विनिर्माण

वस्त्र विनिर्माण एक विशाल उद्योग है। इसके अन्तर्गत रेशों से सूत बनाना तथा सूत से वस्त्र बनाना शामिल है। इसके बाद इन वस्त्रों को रंगा जाता है और पहनने के लिये वस्त्र बनाये जाते हैं। कपास अब भी सबसे महत्वपूर्ण प्राकृतिक सूत है। सूत कातने और वस्त्र ...

                                               

शाल

शाल एक साधारण कपड़ा होता है जिसको कन्धों के ऊपर बिना बांधे धारण किया जाता है। प्रायः यह एक आयताकार या वर्गाकार कपड़ा होता है।

                                               

सलवार कमीज़

सलवार कमीज दक्षिण एशिया और मध्य एशिया के पुरुषों और महिलाओं का पारंपरिक परिधान है। सलवार एक पतलून या पाईजामह है और क़मीस एक लंबा है।

                                               

सूत (रेशा)

सूत, परस्पर जुड़े रेशों की एक निरंतर लम्बाई है जो कपड़े के उत्पादन, सिलाई, क्रोशिये से बुनाई, सलाईयों से बुनाई, बुनाई, कढ़ाई और रस्सी बनाने के लिए उपयुक्त है। धागा एक प्रकार का सूत है जो हाथ या मशीन से होने वाली सिलाई में प्रयुक्त होता है। सिलाई ...

                                               

अन्तःवस्त्र

                                               

वस्त्र उद्योग

                                               

कपास

                                               

जाल वस्त्र

                                               

पंजाबी वस्त्र

                                               

पोशाक

                                               

फारसी पोशाक

                                               

बिन-बुने वस्त्र

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →