Топ-100 ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 172

ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 172



                                               

कॉण्टे क्रूल

कॉण्टे क्रूल ब्रायन स्टॅबलफ़ॉर्ड की द ए टू ज़ॅड ऑफ़ फ़ैण्टसी लिट्रेचर पुस्तक के अनुसार "लघु-कथा शैली है जिसे इसका नाम विलियर्स डलाइल-ऐडम के 1883 के एक संग्रह से मिला है, यद्यपि इससे पूर्व के उदाहरण भी ऐड्गर ऐलन पो जैसे लेखकों द्वारा उपलब्ध करागए ...

                                               

कोरियाई साहित्य

चीनी आदि भाषाओं के प्राचीन साहित्य की भाँति कोरियायी के प्राचीन साहित्य में भी धार्मिक कर्मकांड की मुख्यता देखने में आती है। नीतिशास्त्र, आचारशास्त्र, तथा कनफ्यूशियस और बौद्धधर्म के उपदेश इस साहित्य में प्रधानता से पाए जाते हैं। 14वीं शताब्दी से ...

                                               

क्लासिक

क्लासिक मूलत: प्राचीन यूनान और रोम के लेखकों और उनकी कृतियों, किंतु अब, किसी भी देश और युग के कालजित्‌ कीर्तिलब्ध, सर्वमान्य या प्रतिष्ठित लेखकों और उनकी कृतियों के लिये प्रयुक्त शब्द। वर्तमान अर्थ में इस शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग ईसा की दूसरी सदी ...

                                               

क्षणदा

                                               

क्षणिका

क्षणिका साहित्य की एक विधा है। क्षण की अनुभूति को चुटीले शब्दों में पिरोकर परोसना ही क्षणिका होती है। अर्थात् मन में उपजे गहन विचार को थोड़े से शब्दों में इस प्रकार बाँधना कि कलम से निकले हुए शब्द सीधे पाठक के हृदय में उतर जाये।” मगर शब्द धारदार ...

                                               

खटर-पटर मत कर

                                               

खण्डकाव्य

खण्डकाव्य साहित्य में प्रबंध काव्य का एक रूप है। जीवन की किसी घटना विशेष को लेकर लिखा गया काव्य खण्डकाव्य है। "खण्ड काव्य शब्द से ही स्पष्ट होता है कि इसमें मानव जीवन की किसी एक ही घटना की प्रधानता रहती है। जिसमें चरित नायक का जीवन सम्पूर्ण रूप म ...

                                               

खत्म हो गए सारे पैसे

                                               

गद्य

सामान्यत: मनुष्य की बोलने या लिखने पढ़ने की छंदरहित साधारण व्यवहार की भाषा को गद्य कहा जाता है। इसमें केवल आंशिक सत्य है क्योंकि इसमें गद्यकार के रचनात्मक बोध की अवहेलना है। साधारण व्यवहार की भाषा भी गद्य तभी कही जा सकती है जब यह व्यवस्थित और स्प ...

                                               

गाँव की हाट

                                               

गाथा

वैदिक साहित्य का यह महत्वपूर्ण शब्द ऋग्वेद की संहिता में गीत या मंत्र के अर्थ में प्रयुक्त हुआ है । गै धातु से निष्पन्न होने के कारण गीत ही इसका व्युत्पत्तिलभ्य तथा प्राचीनतम अर्थ प्रतीत होता है। १. स्तुति। २. वह श्लोक जिसमें स्वर का नियम न हो। ३ ...

                                               

गान

                                               

गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स

गिनीज़ व‌र्ल्ड रिकार्ड्स, प्रतिवर्ष प्रकाशित होने वाली एक सन्दर्भ पुस्तक है जिसमें विश्व कीर्तिमानों का संकलन होता है। सन् 2000 तक इसे गिनीज़ बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के नाम से जाना जाता था। यह पुस्तक सर्वाधिक बिकने वाली कॉपीराइट पुस्तक के रूप में स्वयं ...

                                               

गिल्लू

गिल्लू महादेवी वर्मा की "मेरा परिवार" नामक कृति से लिया गया एक भाग है जिसमें लेखिका ने एक गिलहरी का मनुष्य के प्रति प्रेम भाव का वर्णन किया गया है यह उनके एक निजी जीवन के असल घटना पर आधारित है।

                                               

गीत-पहल

                                               

गीतपर्व

                                               

गुजराती साहित्यकार

महानवलकथा: सरस्वतीचंद्र, गोवर्धनराम त्रिपाठी नवलकथा: करणघेलो, नंदशंकर महेता रास: भरतेश्वर बाहुबलिरास, शालिभद्रसुरि ११८५ नाटक: लक्ष्मी, दलपतराम जीवनचरित्र: कोलंबसनो वृतांत, प्राणसुखलाल मथुरदास काव्यसंग्रह: गुजराती काव्यदोहन, दलपतराम मुद्रित पुस्तक ...

                                               

गुप्तचर कथा

ऐसी साहित्यिक रचनाएँ जिनमें पहने रहस्य का निर्माण किया जाता है और फिर कथा का अंत रहस्य को सुलझाने से होता है गुप्तचरकथा साहित्य कही जाती हैं। इनमें कथा का नायक एक गुप्तचर होता है।

                                               

गूसबम्प्स

गूसबम्प्स, बच्चों डरावनी कथा अमेरिकी लेखक द्वारा लिखित उपन्यास की एक श्रृंखला है: आर. एल. स्टाईन और शैक्षिक द्वारा प्रकाशित। यह कहानियों का एक संग्रह है कि अर्द्ध समरूप साजिश संरचनाओं सुविधा काल्पनिक डरावना स्थितियों में शामिल किया जा रहा है बच्च ...

                                               

गोपीचंद श्रीनागर

गोपीचंद श्रीनागर का जन्म १७. ०३.१८३४ ई० को कानपुर, उ०प्र० में हुआ। ये बाल साहित्य के प्रसिद्ध कवि हैं।आपकी प्रमुख कृतियाँ हैं- चुनमुन, रामकथा, रुनझुन बालगीत, नटखट, शिशुगीत, दादी की पहेलियाँ

                                               

गोस्वामी हरिकृष्ण शास्त्री

सन 1904 ईस्वी में महापुरा में जन्मे गोस्वामी हरिकृष्ण शास्त्री साहित्य, न्याय-शास्त्और वेदांत दर्शन के जाने माने अध्येता विद्वान, तंत्र-विद्या के ज्ञाता, संस्कृत गद्य और पद्य के जाने-माने लेखक और आशुकवि थे। इनके पिता का नाम गोपीकृष्ण गोस्वामी और ...

                                               

ग्यूटेनबर्ग परियोजना

ग्यूटेनबर्ग परियोजना, सांस्कृतिक पुस्तकों के अंकीयकरण और संग्रहण से संबंधित एक स्वयंसेवी प्रयास है जिसका उद्देश्य विपुस्तकों के सृजन और उनके वितरण’ को बढ़ावा देना है। 1971 में, माइकल एस हार्ट द्वारा स्थापित, यह सबसे पुराना अंकीय पुस्तकालय है। इसक ...

                                               

ग्रन्थालय और सूचना विज्ञान

                                               

घटकर्पर

घटकर्पर, यमकालंकार प्रधान 22 श्लोकात्मक काव्य है। विरहिणी नायिका द्वारा अपने दूरस्थ नायक को वर्षारंभ में संदेश भेजे जाने का वर्णन इस काव्य का मूल विषय है। इसके रचयिता के विषय में पर्याप्त संशय है। परंपरा में इसको उज्जयिनी नरेश विक्रमादित्य के नवर ...

                                               

चकचक

                                               

चरित्र चित्रण

किसी नाटक, कथा आदि में आये पात्रों के सोच, कार्यपद्धति, आदि के बारे में सूचना देना उस पात्र का चरित्रचित्रण कहलाता है। पात्रों का वर्णन करने के लिये उनके कार्यों, वक्तव्य, एवं विचारों आदि का सहारा लिया जाता है।

                                               

चले हवा

                                               

चाचा चौधरी

साँचा:Comics infobox sec/formcatसाँचा:Comics infobox sec/genrecat चाचा चौधरी एक बेहद लोकप्रिय भारतीय कॉमिक्स पुस्तक के चरित्र हैं, जिसकी रचना दिवंगत कार्टूनिस्ट प्राण कुमार शर्मा ने की थी। उनकी कॉमिक्स हिंदी एवं अंग्रेज़ी समेत अन्य दस भारतीय भाषा ...

                                               

चित्रकाव्य

चित्रकाव्य वह आलंकारिक काव्य है जिसके चरणों की रचना ऐसी युक्ति से की गई हो कि वे चरण किसी विशिष्ट क्रम से लिखे जाने पर कमल, खड़ग, घोड़े, रथ, हाथी आदि के चित्रों के समाबन जाते हों। इसकी गणना अधम प्रकार के काव्यों में होती है।

                                               

चीं चीं चिड़िया

                                               

चीनी भाषा और साहित्य

चीनी साहित्य अपनी प्राचीनता, विविधता और ऐतिहासिक उल्लेखों के लिये प्रख्यात है। चीन का प्राचीन साहित्य "पाँच क्लासिकल" के रूप में उपलब्ध होता है जिसके प्राचीनतम भाग का ईसा के पूर्व लगभग 15वीं शताब्दी माना जाता है। इसमें इतिहास, प्रशस्तिगीत, परिवर् ...

                                               

चोका

चोका जापानी कविता की एक शैली है। ये लम्बी कविताएँ हैं। जापान के सबसे पहले कविता-संकलन मान्योशू में २६२ चोका कविताएँ संकलित हैं, जिनमें सबसे छोटी कविता ९ पंक्तियों की है। चोका कविताओं में ५ और ७ वर्णों की आवृत्ति मिलती है। अन्तिम पंक्तियों में प्र ...

                                               

छत्तीसगढ़ी साहित्य

छत्तीसगढ़ी पूर्वी हिंदी की तीन विभाषाओं में से एक है। यह रायगढ़, सरगुजा, विलासपुर, रायपुर, दुर्ग, जबलपुर तथा बस्तर आदि में बोली जाती है। संभलपुर में तथा उसके आसपास छत्तीसगढ़ी लरिया कहलाती है। छत्तीसगढ़ी भाषा मराठी तथा उड़िया भाषाओं से प्रभावित हु ...

                                               

छुट्टी नहीं मनाते

                                               

छ्न्द

वर्णों की संख्या, क्रम, मात्रा और गति-यति के नियमों से नियोजित पद्य रचना छन्द कहलाती है। छंद का सबसे पहले उल्लेख ऋग्वेद में हुआ है। छंद को पद्य रचना का मापदंड कहा जा सकता है। बिना कठिन साधना के कविता में छंद योजना को साकार नहीं किया जा सकता।

                                               

जनोक्ति

जनोक्ति एक ऑनलाइन वेब पत्रिका है। अगस्त 2009 में ‘ जनोक्ति वेब मीडिया ’ अस्तित्व में आया और निरंतर जारी है। इसके प्रधान संपादक: जयराम "विप्लव" तथा तकनीकी व प्रसार सलाहकार: कनिष्क कश्यप हैं। इसके अतिरिक्त इसके सम्पादकीय सलाहकार: अमिताभ भूषण" अनहद" ...

                                               

जयपुर-वैभवम

जयपुरवैभवम्, भट्ट मथुरानाथ शास्त्री द्वारा भारत की स्वाधीनता से तत्काल पूर्व सन 1947 में 476 पृष्ठों में प्रकाशित एक काव्य-ग्रन्थ है। जो जयपुर के नगर-सौंदर्य, दर्शनीय स्थानों, देवालयों, मार्गों, उद्यानों, सम्मानित नागरिकों, उत्सवों, यहाँ की कविता ...

                                               

जायसी का बारहमासा

जायसी का बारहमासा मलिक मुहम्मद जायसी द्वारा रचित महाकाव्य पद्मावत का एक हिस्सा है।नागमती अपने प्रियतम रत्नसेन के वियोग में व्याकुल है। रत्नसेन जब से चित्तौड़ छोड़ कर गए हैं तब से वापस नहीं आये, नागमती को ऐसा लगता है कि शायद हमारे प्रियतम किसी अन् ...

                                               

जाल नियतकालिक

जाल नियतकालिक छापेखाने में परंपरागत रूप से कागज़ पर छापे जाने की बजाय अंतर्जाल पर इलेक्ट्रानिक माध्यम से स्थापित की जाती है। अंतर्जाल पर स्थित होने के कारण इसको दुनिया के किसी भी कोने से अपने कंप्यूटर पर पढ़ा जा सकता है। इसमें आलेख और चित्रों के ...

                                               

जाल-नियतकालिक

जाल-नियतकालिक छापेखाने में परंपरागत रूप से कागज़ पर छापे जाने की बजाय अंतर्जाल पर इलेक्ट्रानिक माध्यम से स्थापित की जाती है। अंतर्जाल पर स्थित होने के कारण इसको दुनिया के किसी भी कोने से अपने कंप्यूटर पर पढ़ा जा सकता है। इसमें आलेख और चित्रों के ...

                                               

जीना है तो लड़ना होगा

                                               

जुरासिक पार्क (किताब)

जुरासिक पार्क 1990 में प्रकाशित काल्पनिक विज्ञान पर आधारित किताब है जिसे माइकल क्रिचटन ने लिखा है। 1993 में स्टिवन स्पिलबर्ग ने इसे फ़िल्म के रुपांतरण जुरासिक पार्क के रूप में बनाया था।

                                               

ज्ञानाश्रयी शाखा

इस शाखा के भक्त-कवि निर्गुणवादी थे और नाम की उपासना करते थे। गुरु को वे बहुत सम्मान देते थे और जाति-पाँति के भेदों को अस्वीकार करते थे। वैयक्तिक साधना पर वे बल देते थे। मिथ्या आडंबरों और रूढियों का वे विरोध करते थे। लगभग सब संत अपढ़ थे परंतु अनुभ ...

                                               

टिली लिली झर्र

                                               

टू लाइव्ज़

                                               

डाक बंगला

आज भी जब मैं इरा के बारे में सोचता हूं, तो उसकी सूरत-शक्ल से ज्यादा मुझे मेजर सोलंकी, बतरा, डॉक्टर और विमल याद आते हैं। मेरे कानों में कभी दौड़ते हुए घोड़ों की टापों की आवाज़ गूंजने लगती है, कभी बतरा की कद परछाई याद आती है, कभी डॉक्टर का वह जुमला ...

                                               

डुमक डुमक

                                               

डोगरी साहित्य

जनभाषाओं में साहित्यसर्जन का प्रारंभ प्राय: मौखिक परंपरा के रूप में ही होता है। डोगरी में लोकसाहित्य की यह थाती काफी समृद्ध है। डोगरी संस्था के अनुशासन में उत्साही साहित्यिकों ने इस समय तक से 500 से अधिक लोकगीत इकट्ठे किए हैं। इन गीतों में भाव तथ ...

                                               

ढब्बू जी

आबिद सुरती धर्मयुग पत्रिका के लिए आबिद सुरती जी ने आम आदमी को चित्रित करती हुयी एक कार्टून स्ट्रिप बनायीं थी, जो प्रसिद्ध पत्रिका का एक लोकप्रिय अंग बन गया था - ढब्बू जी. छोटी कद-काठी के और ऊपर से लेकर नीचे तक काले लबादे में ढंके ढब्बू जी ने अपने ...

                                               

तंत्र साहित्य (भारतीय)

तंत्र भारतीय उपमहाद्वीप की एक वैविधतापूर्ण एवं सम्पन्न आध्यात्मिक परिपाटी है। तंत्र के अन्तर्गत विविध प्रकार के विचार एवं क्रियाकलाप आ जाते हैं। तन्यते विस्तारयते ज्ञानं अनेन् इति तन्त्रम् - अर्थात ज्ञान को इसके द्वारा तानकर विस्तारित किया जाता ह ...

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →