Топ-100 ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं?

ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं?



                                               

यूनानी

                                               

सुअर इन्फ्लूएंजा

इस अनुच्छेद को विकिपीडिया लेख Swine influenza के इस संस्करण से अनूदित किया गया है। सुअर इन्फ्लूएंजा जिसे स्वाएन फ्लू, स्अर फ्लू या शूकर फ्लू भी कहते हैं, एक संक्रामक है जो "सूअर इन्फ़्लुएन्ज़ा वाइरस" नाम के सूक्ष्म जीव की अनेको विशिष्ट प्रकार की ...

                                               

विषाणु रोग

विषाणु से होने वाली बीमारियां Trick -" रेखा हमें हिट करके पोएचे पीछे छोड़ गई” 1. रे - - –रेबीज 2. खा - - खसरा 3. ह - - –हर्पिस 4. में - - -मेनिनजाइटिस 5. हि - - -हिपैटाइटिस 6. ट - - –ट्रैकोमा करके - - -silent 7. पो - - -पोलियो 8. ए - - –एड्स 9. च ...

                                               

स्प्लेनोमेगाली

प्लीहा की वृद्धि को स्प्लेनोमेगाली कहते हैं। प्लीहा या तिल्ली आम तौपर मानव पेट के बाएँ ऊपरी चतुर्भाग में स्थित होती है। यह हाइपरस्प्लेनिज्म के चार प्रमुख संकेतों में से एक है, अन्य तीन संकेत हैं - साइटोपेनिया, सामान्य या हाइपरप्लास्टिक अस्थि मज्ज ...

                                               

अस्प्लेनिया

यह लेख चिकित्सा हालत के बारे में है। कीट जीनस के लिए, अस्प्लेनिया कीट देखे. स्प्लीन्वोर्थ फ़र्न के लिए, अस्प्लेनियम देखें. अस्प्लेनिया शब्द वो स्तिथि का वर्णन करता हैं जब तिल्लीकम नहीं कर रहा हैं। इस स्तिथि में काफी गंभीर बिमियारिओं भी हो सकती है ...

                                               

ज़ुकाम

सामान्य ज़ुकाम को नैसोफेरिंजाइटिस, राइनोफेरिंजाइटिस, अत्यधिक नज़ला या ज़ुकाम के नाम से भी जाना जाता है। यह ऊपरी श्वसन तंत्र का आसानी से फैलने वाला संक्रामक रोग है जो अधिकांशतः नासिका को प्रभावित करता है। इसके लक्षणों में खांसी, गले की खराश, नाक स ...

                                               

लार

लार मानव तथा अधिकांश जानवरों के मुंह में उत्पादित पानी-जैसा और आमतौपर एक झागदार पदार्थ है। लार मौखिक द्रव का एक घटक है। लार उत्पादन और स्त्राव तीन में से एक लार ग्रंथियों से होता है। मानव लार 98% पानी से बना है, जबकि इसका शेष 2% अन्य यौगिक जैसे इ ...

                                               

लिम्फाडेनोपैथी

लिम्फाडेनोपैथी का शाब्दिक अर्थ "लिम्फ नोड्स का रोग" है। हालांकि, इसका अक्सर "सूजे/बढ़े हुए लिम्फ नोड्स" के समान अर्थ के साथ ही उपयोग किया जाता है। यह संक्रमण, स्वतः-प्रतिरक्षित रोग, या असाध्यता के कारण हो सकता है। लिम्फ नोड की सूजन को लिम्फाडेनिट ...

                                               

सूचकाक्षर

बोलने तथा लिखने में सुविधा और समय तथा श्रम की बचत करने के उद्देश्य से कभी-कभी किसी बड़े अथवा क्लिष्ट शब्द के स्थान पर उस शब्द के किसी ऐसे सरल, सुबोध एवं संक्षिप्त रूप का प्रयोग किया जाता है जिससे श्रोताओं और पाठकों को पूरे शब्द का बोध सरलता से हो ...

                                               

अंतरराष्ट्रीय चिंता का सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल

अंतर्राष्ट्रीय चिंता का एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा एक असाधारण घटना की औपचारिक घोषणा है, जो रोग के अंतरराष्ट्रीय प्रसार के माध्यम से अन्य राज्यों के सार्वजनिक स्वास्थ्य को जोखिम में डाल सकते हैं और इस चुनौती से निप ...

                                               

एस्पिरिन

एस्पिरिन, जिसे एसिटाइलसैलिसाइलिक एसिड, भी कहते हैं, एक सैलिसिलेट औषधि है, जो अकसर हल्के दर्दों से छुटकारा पाने के लिये दर्दनिवारक के रूप में, ज्वर कम करने के लिये ज्वरशामक के रूप में और शोथ-निरोधी दवा के रूप में प्रयोग में लाई जाती है। एस्पिरिन क ...

                                               

बहुसृत काठिन्य

मल्टिपल स्किलरोसिस या मस्तिष्क और सुषुम्ना प्रदाह के प्रसार के नाम से भी जाना जाता है) एक रोग है जिसमें मस्तिष्क तथा सुषुम्ना रज्जु शोथ के चारों ओर वसायुक्त माइलिन के आवरण क्षतिग्रस्त हो जाते हैं, जिससे माइलिन के आवरण नष्ट होने और घाव के निशान हो ...

                                               

ब्रोन्किइक्टेसिस

ब्रोन्किइक्टेसिस एक रोग की अवस्था है जिसे ब्रोन्कियल पेड़ के एक भाग के स्थानीयकृत, अपरिवर्तनीय फैलाव के रूप में परिभाषित किया गया है। यह वातस्फीति, ब्रोंकाइटिस और सिस्टिक फाइब्रोसिस सहित रोग प्रतिरोधी फेफड़े के रूप में वर्गीकृत किया जाता है। वायु ...

                                               

प्रोटिस्ट

प्रजीव ऐसा कोई भी एककोशिकीय जीव है जिसमें वास्तविक या सत्य केन्द्रक होता है तथा जो जन्तु, कवक या पादप नही है। प्रोटिस्ट कोई प्राकृतिक समूह या क्लेड नहीं । कुछ जैव वैज्ञानिक वर्गीकरणों, जैसे कि रॉबर्ट विटाकर द्वारा सन 1969 में प्रस्तावित प्रख्यात ...

                                               

खसरा

खसरा श्वसन प्रणाली में वायरस, विशेष रूप से मोर्बिलीवायरस के जीन्स पैरामिक्सोवायरस के संक्रमण से होता है। मोर्बिलीवायरस भी अन्य पैरामिक्सोवायरसों की तरह ही एकल असहाय, नकारात्मक भावना वाले आरएनए वायरसों द्वारा घिरे होते हैं। इसके लक्षणों में बुखार, ...

                                               

सिस्टोसोमियासिस

सिस्टोसोमियासिस एक रोग है जो सिस्टोसोमा प्रकार के परजीवी कीड़ों के कारण होता है। यह मूत्र मार्ग या आंतोंको संक्रमित कर सकता है। लक्षणों में पेट दर्द, डायरिया, खूनी पेचिश या मूत्रमें रक्त जाना शामिल है। वे लोग जो लंबे समय से संक्रमित है उनमें लीवर ...

                                               

हनटिंग्टन रोग

हनटिंग्टन रोग, कोरिया, या विकार, एक ऐसा तंत्रिका-अपजननात्मक आनुवंशिक विकार है जो मांसपेशियों के समन्वय को प्रभावित करता है और संज्ञानात्मक रोगह्रास और मनोभ्रंश की ओर ले जाता है। यह आम तौपर अधेड़ अवस्था में दिखाई देने लगता है। HD कोरिया नामक असाधा ...

                                               

इल्ली

इल्ली या कैटरपिलर, लेपिडोप्टेरा प्रजाति के एक सदस्य के लार्वा रूप हैं। आहार के मामले में वे अधिकांशतः शाकाहारी हैं, लेकिन कुछ प्रजातियां कीटभक्षी है। कैटरपिलर खाऊ होते हैं और इनमें से कई को कृषि में कीट माना जाता है। कई मॉथ प्रजातियों को, कृषि उत ...

                                               

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी २०१०

१३ अगस्त-- * मध्य रूस, साइबेरिया और पश्चिमी कनाडा के जंगलों में लगी भयंकर आग से प्रतिदिन 7 करोड़ टन जहरीला कार्बन मोनो ऑक्साइड के हो रहे उत्सर्जन से उत्तरी ध्रुव पर जहरीले गैसीए बादल इकट्ठा हो गए। ३ अगस्त- सूर्य में हुए कोरोनल मास इजेक्शन के कारण ...

                                               

आंत में उपांत्र शोथ-एपेंडिसाइटिस

साँचा:Technical उपांत्र शोथ एपेंडिक्स की सूजन की अव्स्था है। यह एक आपातकालीन चिकित्सा के रूप में वर्गीकृत है और कई मामलों में सूजन को हटाने या तोलेप्रोस्कोपी लेप्रोटोमी द्वारा, की आवश्यकता होती है। अनुपचारित, मृत्यु दर, मुख्य रूप से सदमे और पेरिट ...

                                               

प्रतिजैविक

आम उपयोग में, प्रतिजैविक या एंटीबायोटिएक पदार्थ या यौगिक है, जो जीवाणु को मार डालता है या उसके विकास को रोकता है। प्रतिजैविक रोगाणुरोधी यौगिकों का व्यापक समूह होता है, जिसका उपयोग कवक और प्रोटोजोआ सहित सूक्ष्मदर्शी द्वारा देखे जाने वाले जीवाणुओं ...

                                               

भारत में उपेक्षित उष्णकटिबंधीय बीमारियाँ

भारत में उपेक्षित उष्णकटिबंधीय बीमारियाँ परजीवी, वायरस, फंगस और बैक्टेरियाई संक्रमणों का एक समूह है, जो भारत समेत अनेक कम-आय वाले देशों में फैली हुई हैं। भारत की जनसंख्या 1.3 अरब है, जिसके कारण यह दुनिया की दूसरी सबसे अधिक आबादी वाला देश है। हाला ...

                                               

संज्ञाहरण

संज्ञाहरण या संज्ञाहीनता, का पारंपरिक अर्थ है संवेदनशीलता महसूस करने की स्थिति का अवरोधन अथवा अस्थायी रूप से हरण. यह औषधीय प्रेरित होती है और शब्दस्मृतिलोप, पीड़ाशून्यता, सजगता की हानि, कंकालीय मांसपेशी प्रतिक्रिया या कम तनाव प्रतिक्रिया या सभी क ...

                                               

सिगार

सिगार सूखे और किण्वित तम्बाकू का कसकर-लपेटा गया एक बंडल होता है जिसको जलाकर उसके धुंए का कश मुंह के अंदर खींचा जाता है। सिगार का तम्बाकू ब्राज़ील, कैमरून, क्यूबा, डोमिनिकन गणराज्य, होंडुरास, इंडोनेशिया, मैक्सिको, निकारागुआ, फिलीपींस और पूर्वी संय ...

                                               

अल कपोन

एल्फोंसे गेब्रिएल "अल" कपोन एक अमेरिकी गैंगस्टर थे जो प्रोहिबिशन-एरा के समय "कपोन्स" नाम से जाने जाने वाले एक आपराधिक सिंडिकेट के मुखिया थे। यह सिंडिकेट 1920 से 1931 के बीच तस्करी तथा शराब की अवैध बिक्री एवं अन्य गैर क़ानूनी गतिविधियों में संलग्न ...

                                               

सैल्मन

सैल्मोनिडे परिवार की विभिन्न प्रजातियों की मछली के लिए दिया जाने वाला आम नाम है सैल्मन. इस परिवार की कई अन्य मछलियों को ट्राउट कहा जाता है; दोनों के बीच अक्सर यह अंतर बताया जाता है कि सैल्मन विस्थापित होती रहती हैं और ट्राउट निवासी होती हैं, एक ध ...

                                               

गैस्ट्रोएसोफेगल प्रतिवाह रोग

गैस्ट्रोएसोफेगल प्रतिवाह रोग, गैस्ट्रो-एसोफेगल प्रतिवाह रोग, स्ट्रिक प्रतिवाह रोग, या एसिड प्रतिवाह रोग एक बल्गम नुक्सान का जीर्न लक्शण है जो पेट के क्षेत्र से अन्नप्रणाली मे आता है। गैस्ट्रोएसोफेगल प्रतिवाह रोग आमतोपर पेट और अन्नप्रणाली के बीच ब ...

                                               

हिस्टीरिया

हिस्टीरिया की कोई निश्चित परिभाषा नहीं है। बहुधा ऐसा कहा जाता है, हिस्टीरिया अवचेतन अभिप्रेरणा का परिणाम है। अवचेतन अंतर्द्वंद्र से चिंता उत्पन्न होती है और यह चिंता विभिन्न शारीरिक, शरीरक्रिया संबंधी एवं मनोवैज्ञानिक लक्षणों में परिवर्तित हो जात ...

                                               

इबोला वायरस रोग

इबोला विषाणु रोग या इबोला हेमोराहैजिक बुखार इबोला विषाणु के कारण लगने वाला अत्यन्त संक्रामक एवं घातक रोग है। आम तौपर इसके लक्षण वायरस के संपर्क में आने के दो दिनों से लेकर तीन सप्ताह के बीच शुरू होता है, जिसमें बुखार, गले में खराश, मांसपेशियों मे ...

                                               

अस्थिसंध्यार्ति

अस्थिसंध्यार्ति) में अस्थियों के जोड़ बिगड़ जाते हैं और उन्हें घुमाना/मोड़ना कष्तप्रद हो जाता है। इसको व्यपजनी आर्थ्राइटिस भी कहते हैं। इस रोग में दो प्रकार के परिवर्तन होते हैं: १ अस्थियों के कुछ भाग गल जाते हैं और २ बहिस्थ भाग में नई अस्थि बन ज ...

                                               

जलसंत्रास

जलसंत्रास या जलभीति जल या किसी अन्य पेय या खाद्य को देखकर रोग के आक्रमण की संभावना से रोगी के भयभीत हो जाने की स्थिति का नाम है। यह जलसंत्रास रोग का विशेष लक्षण है। धनुस्तंभ में भी ऐसा ही होता है। घूँटने का प्रयत्न करते ही रोगी की पेशियों में ऐठन ...

                                               

सेफीक्सीम टैबलेट

सेफेक्सीम प्रतिजैविक दवा है जो अनीकों जीवाणुओं के विरुद्ध कार्य करती है। सेफीक्सीम टैबलेट का इस्तेमाल बैक्टीरिया को मारने के लिए किया जाता है । और यह शरीर के इन्फेक्शन जैसे कान के इन्फेक्शन, गले का इन्फेक्शन, निमोनिया और युरिनैरी ट्रैक्ट इन्फेक्श ...

                                               

स्ट्रेप्टोकॉकल ग्रसनीशोथ

स्ट्रेप्टोकॉकल ग्रसनीशोथ या स्ट्रेप थ्रोट एक ऐसा रोग है जो एक ऐसे जीवाणु द्वारा उत्पन्न होता है जिसे" समूह ए स्ट्रेप्टोकॉकस”कहा जाता है। स्ट्रेप थ्रोट गले तथा गलतुंडिका पर प्रभाव डालता है। गलतुंडिका गले में स्थित, दो ग्रंथियांहोती हैं जो मुँहके प ...

                                               

न्यूक्लियर मेडिसिन

न्यूक्लियर मेडिसिन द्वारा- डा۰ मुकेश जैन न्यूक्लियर मेडिसिन विशेषज्ञ साथ में- संजीव सिंह अब तक उपलब्ध सभी जाँच जैसे सी.टी. स्कैन, एम. आर. आई. व एक्स रे आदि अंगों के आकार में आयी खराबी को छाया चित्रित करते थे जिससे रोग होने पर ही उसके बारे में पता ...

                                               

स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा (शल्की सेल कैंसर)

स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा) कार्सिनोमाटस कैंसर है, जो त्वचा, होंठ, मुंह, घेघा, मूत्राशय, प्रोस्टेट, फेफड़ों, योनि और गर्भाशय ग्रीवा सहित कई अलग विभिनन अंगों में होता है। यह शल्की इपिथेलियम का एक घातक ट्यूमर है। अपने आम नाम के बावजूद, विविध लक्षण और ...

                                               

पैराथाइराइड ग्रंथि

यह ग्रन्थि थायरॉइड ग्रन्थि की पृष्ठ सतह में धँसी दो जोड़ी या चार छोटी अण्डाकार-सी लाल रंग की ग्रथियों होती हैं। मनुष्य में इनका वजन 0.01 से 0.03 ग्राम होता है। इनके साथ-साथ कई प्रकार की कोशिकाएँ तथा रक्त पात्र भी पाये जाते हैं। यह ग्रथियों पैराथॉ ...

                                               

हाइपरप्लासिया

हाइपरप्लासिया या अतिवर्धन एक सामान्य शब्द है जो किसी अंग या ऊतक के भीतर कोशिकाओं की वृद्धि को संदर्भित करता है जिसके परे इसे सामान्य रूप से देखा जाता है। हाइपरप्लासिया के परिणामस्वरूप किसी अंग की अति वृद्धि हो सकती है एवं इस शब्द को कभी-कभी सुसाध ...

                                               

सूजाक

सूजाएक संक्रामक यौन रोग) है। सूजाक नीसेरिया गानोरिआ नामक जीवाणु से होता है जो महिला तथा पुरुषों में प्रजनन मार्ग के गर्म तथा गीले क्षेत्र में आसानी और बड़ी तेजी से बढ़ती है। इसके जीवाणु मुंह, गला, आंख तथा गुदा में भी बढ़ते हैं। उपदंश की तरह यह भी ...

                                               

पीतज्वर

पीतज्वर या यलो फीवर एक संक्रामक तथा तीव्र रोग हैं, जो सहसा आरंभ होता है। इसमें ज्वर, वमन, मंद नाड़ी, मूत्र में ऐल्वुमेन की उपस्थिति, रक्तस्राव तथा पीलिया के लक्षण होते हैं। इस रोग का कारक एक सूक्ष्म विषाणु होता है, जिसका संवहन ईडीस ईजिप्टिआई जाति ...

                                               

परागज ज्वर

एलर्जी के कारण नाक के वायुमार्गों का प्रदाह होना परागज ज्वर कहलाता है। नाक की श्लेष्मा कला जब पौधों के पराग के प्रति ऐलर्जी के कारण प्रभावित होती है, जिससे व्यक्ति की नाक में खुजली होती है, आँख से पानी गिरता है और छींके आती हैं, तब यह अवस्था पराग ...

                                               

बालूमाक्षिका ज्वर

बालूमाक्षिका ज्वर अत्यंत सूक्ष्म विषाणु द्वारा होता है, जो फिल्टर के पार जा सकता है। यह तीव्र ज्वर संक्रामक होता है तथा अत्यंत दौर्बल्य छोड़ जाता है। फ्लिबॉटोमस पापाटेसाइ नामक बालू की मादा मक्खी इसके विषाणु के वाहन का कार्य करती है। इसे फ्लिबॉटोम ...

                                               

दीपक राग

दीपक राग भारतीय संस्कृति में प्रचलित विभिन्न संगीत शैलियों में से एक राग शैली है।2015, 09:11 AM IST ग्वालियर। बादशाह अकबर की जिद पर तानसेन ने दीपक राग गया तो न सिर्फ दीपक अपने आप जल उठे, बल्कि आसपास का माहौल भी तपने लगा। इस राग के असर से खुद तानस ...

                                               

ज्वरदर्पण

                                               

लोअर रेस्पेरेटरी इंफेक्शन

निचले श्वसन नली संक्रमण जिसका एक रूप निमोनिया होता है; श्वास नली के निचले भाग, यानि फेफड़ों तक पहुंच जाने वाले संक्रमण को कहा जाता है। इसके चिह्न हैं छोटी श्वास, कमज़ोरी, उच्च ज्वर, खांसी एवं थकान आदि।

                                               

जच्चा संक्रमण

जच्चा संक्रमण, प्रसवोत्तर संक्रमण, जच्चा ज्वर या प्रसूति ज्वर, के नाम से भी जाना जाता है, प्रसव या गर्भपात के बाद का कोई बैक्टीरिया संक्रमणहै। संकेत और लक्षण में आम तौपर ज्वर38.0 °से., से अधिक ठंड लगना, पेट के निचले भाग में दर्द, और संभवतः खराब म ...

                                               

संधि शोथ

संधि शोथ यानि "जोड़ों में दर्द" के रोगी के एक या कई जोड़ों में दर्द, अकड़न या सूजन आ जाती है। इस रोग में जोड़ों में गांठें बन जाती हैं और शूल चुभने जैसी पीड़ा होती है, इसलिए इस रोग को गठिया भी कहते हैं। संधिशोथ सौ से भी अधिक प्रकार के होते हैं। अ ...

                                               

पार्श्व न्यूमोनिया

पार्श्व न्युमोनिया या प्लूरोन्युमोनिया ढोरों में अधिक होने वाला उग्र स्पर्शज जीवाणु रोग है, जो मुख्यतः फुफ्फुस तथा वक्ष की अस्तर कला को आक्रांत करता है। यह भैंस, जेबू और याक को भी होता है। इसे सामान्यतः फुफ्फुस ताऊन भी कहते हैं। इसके फलस्वरूप एक ...

                                               

सर्रा रोग

सर्रा रोग मेरुडण्ड वाले प्राणियों को लगने वाला रोग है। यदि इसका इलाज नहीं किया गया तो पशु मर सकता है। यह रोग ट्राईपैनसो-इवेनसाई नामक परजीवी के कारण होता है। यह प्रोटोजोवा पशु के रक्त में प्रवेश कर जाता है जिससे ज्वर, कमजोरी, सुस्ती, वजन कम होना औ ...

                                               

राम मनोहर लोहिया अस्पताल

राम मनोहर लोहिया अस्पताल दिल्ली का एक प्रमुख अस्पताल है। पहले इसका नाम विलिंग्टन अस्पताल था। इसकी स्थापना २०वीं शताब्दी के आरम्भ में हुई थे। यह ब्रीतिश सरकार द्वारा अपने कर्मचारियों के लिये स्थापित किया गया था। इसमें आरम्भ में ५४ बिस्तर थे। भारत ...

                                               

रॉबर्ट बर्न्स

राबर्ट बर्न्स स्कॉटलैण्ड का कवि था। अधिकांश लोग उसे स्कॉटलैण्ड का राष्ट्रीय कवि मानते हैं। उसकी रचनाएँ स्कॉट्स भाषा में हैं किन्तु उसने अंग्रेजी और स्कॉट भाषा की एक बोली में भी रचनाएँ की हैं।

यूजर्स ने सर्च भी किया:

खेल, मनोरंजन, धर्म, विज्ञान, स्वास्थ्यविज्ञान, तकनीकी और अभियान्त्रिकी, समाजशास्त्र, संस्कृति, दर्शन, भूगोल, भाषा, इतिहास, साहित्य, व्यक्तिगत जीवन, यूनानी, दवखन, तसक, शसतर, फयद, चकतस, यमडनलसट, यनदवकफयद, यदवकनम, यनचकशसतर, नचतसककयकहतह, यचतसककनम, कहत, लसट, यनचकतसpdf, यदवखन,

...

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →